पतंजलि सफेद मूसली के 11 फायदे, उपयोग और नुकसान | Patanjali Safed Musli Ke Fayde Nuksan

Patanjali Safed Musli Ke Fayde Nuksan : सफेद मूसली एक शक्तिवर्धक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसका उपयोग मुख्य रूप से शारीरिक कमजोरी दूर करने, पुरुषों की यौन क्षमता बढ़ाने और शरीर को स्वस्थ व तंदरुस्त बनाने के उद्देश्य से किया जाता है। साथ ही इसके अनेक फायदे हैं। खासतौर पर पुरुषों की हेल्थ के लिए सफेद मूसली को बेहद लाभकारी माना जाता है। इसे सही तरीके से डाइट में शामिल करके आप कई प्रकार की समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

सफेद मूसली का सेवन कई तरह से किया जा सकता है। बाजार में आपको इसके कैप्सूल व चूर्ण मिल जाएंगे। भारत की प्रशिद्ध आयुर्वेदिक कंपनी पतंजलि द्वारा भी सफेद मूसली पाउडर का निर्माण किया जाता है, जो “Patanjali Swet Mushli Churna” के नाम से आता है। इस आर्टिकल में आगे हम पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के फायदे (patanjali safed musli ke fayde), उपयोग, कीमत और नुकसान के बारे में जानेंगे।

सफेद मूसली क्या है?

सफेद मूसली (safed musli) एक प्रकार का पौधा है जो आमतौर पर जंगली इलाकों में अपने आप उगता है। लेकिन इसकी बढ़ती डिमांड को देखते हुए आजकल कई जगह इसकी खेती भी की जा रही है। इसके फूल, पत्ती व जड़ों में औषधीय गुण होते हैं जिनका उपयोग आयुर्वेदिक दवा के रूप में किया जाता है।

सफेद मूसली में एंटीऑक्सीडेंट व एंटीइंफ्लेमेटरी जैसे गुण पाए जाते हैं साथ ही इसमें प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम व पोटैशियम जैसे पोषक तत्व भी मौजूद होते हैं। इसका उपयोग मुख्य रूप से शारीरिक कमजोरी दूर करने और सेक्स पावर बढ़ाने के लिए किया जाता है। इसे ‘हर्बल वियाग्रा’ भी कहा जाता है।

पतंजलि सफेद मूसली के फायदे – Patanjali Safed Musli Ke Fayde

patanjali safed musli benefits in hindi

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण में सफेद मूसली की जड़ का इस्तेमाल किया गया है। इसके अलावा इसमें किसी अन्य चीज को शामिल नहीं किया गया है, जो एक अच्छी बात है। तो आइए जानते हैं कि पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के फायदे (patanjali safed musli ke fayde) क्या हैं।

1. शारीरिक कमजोरी दूर करने में सहायक

सफेद मूसली (safed musli) एक ताकतवर जड़ी बूटी है जो शारीरिक कमजोरी व दुर्बलता दूर करने में काफी सहायक होती है। आयुर्वेद में इसे शक्तिवर्धक औषधि माना जाता है। दूध के साथ इसका सेवन करने से सामान्य कमजोरी को दूर करने में काफी मदद मिल सकती है। अतः कमजोरी से पीड़ित व्यक्ति चिकित्सक की सलाह से इसका सेवन कर सकते हैं।

2. वजन बढ़ाने के लिए पतंजलि सफेद मूसली

पतंजलि सफेद मूसली के फायदे (patanjali safed musli benefits in hindi) वजन बढ़ाने के लिए भी अच्छे हैं। जो लोग बहुत ज्यादा दुबले पतले है या जिनका वजन कम है उनके लिए यह काफी फायदेमंद आयुर्वेदिक दवा है। अच्छे खानपान और एक्सरसाइज के साथ इसे अपनी डाइट में शामिल करके वजन बढ़ाने में काफी मदद मिल सकती है। साथ ही इसके सेवन से मसल्स और हड्डियां भी मजबूत रहती है।

3. नेचुरल टेस्टोस्टेरोन बूस्टर

अश्वगंधा की तरह सफेद मूसली भी एक नेचुरल टेस्टोस्टेरोन बूस्टर है। टेस्टोस्टेरोन एक हार्मोन है जो पुरुषों के यौन स्वास्थ्य के लिए बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। साथ ही यह मांसपेशियों व हड्डियों के विकास में भी मददगार होता है। 30 साल के बाद पुरुषों का शरीर टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन कम कर देता है, ऐसे में सफेद मूसली व अश्वगंधा जैसे नेचुरल आयुर्वेदिक हर्ब्स की मदद से इनका उत्पादन कुछ हद तक बढ़ाया जा सकता है।

4. यौन क्षमता बढ़ाने में सहायक

पतंजलि सफेद मूसली के फायदे (patanjali safed musli ke fayde) यौन शक्ति बढ़ाने के लिए भी अच्छे हैं। कई बार ज्यादा तनाव लेने या खानपान पर ध्यान न दे पाने के कारण पुरुषों की यौन शक्ति कमजोर पड़ने लगती है और सेक्स करने की इच्छा भी मरने लगती है। ऐसे में सफेद मूसली के सेवन से इस समस्या को दूर करने में काफी मदद मिल सकती है। सफेद मूसली को यौन शक्ति बढ़ाने के लिए बेहद फायदेमंद आयुर्वेदिक जड़ी बूटी माना जाता है।

5. नपुंसकता के लिए पतंजलि सफेद मूसली के फायदे

नपुंसकता से बचने के लिए भी पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण (patanjali safed musli churna) बेहद कारगर साबित हो सकता है। आयुर्वेद में सफेद मूसली को स्पर्म क्वालिटी यानी शुक्राणुओं की गुणवत्ता में सुधार करने वाली औषधि माना जाता है। हालाकिं इसके उपर अभी तक ऐसा कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिला है। लेकिन आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धिति में लंबे समय से सेक्सुअल समस्याओं के लिए इसका उपयोग होता आ रहा है।

यह भी पढ़े

6. इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण (patanjali safed musli) केवल सेक्स समस्याओं के लिए ही उपयोगी नहीं है, बल्कि यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में भी काफी सहायक होता है। दरअसल, सफेद मूसली में एंटीऑक्सीडेंट और कई प्रकार के खनिज पाए जाते हैं जो शरीर को रोगों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं। सर्दियों के मौसम में इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

7. शरीर में ऊर्जा बढ़ाये

शरीर में ऊर्जा बढ़ाने के लिए भी पतंजलि श्वेत मूसली चूर्ण (patanjali swet musli churna) का सेवन कर सकते हैं। इसके इस्तेमाल से शरीर चुस्त दुरुस्त रहता है और दिनभर शरीर में एनर्जी बनी रहती है। जो लोग ज्यादा शारीरिक कार्य करते हैं या एक्सरसाइज करते हैं उनके लिए यह बेहद उपयोगी हो सकता है। काफी बॉडी बिल्डर भी शरीर में ऊर्जा व स्टैमिना बढ़ाने के लिए इसका उपयोग करते हैं।

यह भी पढ़े : बॉडी कैसे बनाये?  

8. गठिया रोग के लिए पतंजलि स्वेत मूसली के फायदे

गठिया और जोड़ों से संबंधित समस्याओं के लिए भी पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के फायदे (patanjali safed musli benefits in hindi) बेहद शानदार है। इसमें मौजूद एंटीइंफ्लेमेटरी गुण सूजन को कम करने में सहायक होते हैं जिससे गठिया और जोड़ों के दर्द में थोड़ा आराम मिल सकता है। साथ ही दूध के साथ सफेद मूसली चूर्ण का सेवन करने से हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत रहती है, इसमें भरपूर कैल्शियम होता है। 

9. मूत्र रोगों के लिए लाभकारी

पेशाब में जलन महसूस होना, बारबार पेशाब आना या रुक-रुक कर पेशाब आना जैसी समस्याओं में भी पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण का सेवन फायदेमंद हो सकता है। आयुर्वेद में मूत्र रोगों के लिए सफेद मूसली को बेहद कारगर जड़ी बूटी माना गया है।

10. ल्यूकोरिया के लिए श्वेत मूसली चूर्ण

सफेद मूसली पुरुषों के स्वास्थ्य के साथ-साथ महिलओं के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। इसके सेवन से ल्यूकोरिया यानी सफेद पानी की समस्या को दूर करने में काफी मदद मिलती है। साथ ही इसके सेवन से ल्यूकोरिया के कारण शरीर में आई कमजोरी को भी दूर किया जा सकता है।      

11. मस्तिष्क के लिए लाभकारी

सफेद मूसली मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए भी बेहद फायदेमंद आयुर्वेदिक औषिधि है। यह तनाव कम करने, याददास्त को दुरुस्त रखने और नींद में सुधार करने में सहायक होती है। इस आधार पर कहा जा सकता है की सफेद मूसली का सेवन शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। 

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के अन्य फायदे – Patanjali Safed Musli Benefits in Hindi

इन सब के अलावा सफेद मूसली दस्त, अर्थराइटिस, मोटापा, डायबिटीज, शिग्रपतन, बांझपन और पेट से संबंधित समस्याओं के लिए भी काफी उपयोगी आयुर्वेदिक दवा है। आप चिकित्सक की सलाह और बताए गए तरीके से विभिन्न रोगों में इसका सेवन कर सकते हैं। 

पतंजलि सफेद मूसली का सेवन कैसे करे – Patanjali Safed Musli Uses in Hindi

सफेद मूसली का सेवन आपको डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए। सभी का शरीर अलग होता है इसलिए इसके सेवन की विधि आयु, लिंग और शारीरिक स्थिति के हिसाब से अलग हो सकती है। सामान्य मामलों में सफेद मूसली चूर्ण का एक छोटा चम्मच (लगभग 5 ग्राम) को गुनगुने दूध में मिक्स करके लिया जाता है। जिन लोगों को दूध हजम नहीं होता वो गुनगुने पानी के साथ भी इसे ले सकते हैं।

पतंजलि सफेद मूसली लेने से पहले बरते ये सावधानियां 

वैसे तो पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण एक आयुर्वेदिक दवा है जिसे बनाने में केवल सफेद मूसली की जड़ का उपयोग किया गया है, इसलिए इसके नुकसान की संभावना बेहद कम होती है, लेकिन फिर भी आपको इसके सेवन से पहले कुछ सावधानियां भी अवश्य बरतनी चाहिए। 

  • सफेद मूसली सेहत के लिए फायदेमंद है यह सोचकर कभी भी अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें। 
  • चिकत्सक द्वारा बताई गई मात्रा और निर्धारित समय पर ही इसका सेवन करें।
  • इसके सेवन से पहले डिब्बे में लिखे दिशा-निर्देश अवश्य पढ़े। 
  • इसकी एक्सपायरी डेट पर भी एक नजर जरूर मार लें।   
  • छोटे बच्चों की पहुँच से इसे दूर रखें। 

पतंजलि सफेद मूसली के नुकसान – Patanjali Safed Musli Ke Nuksan

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के फायदे तो बेहतरीन है लेकिन यदि अधिक मात्रा या गलत तरीके से इसका सेवन किया जाए तो शरीर को इसके नुकसान भी झेलने पढ़ सकते हैं। पतंजलि सफेद मूसली के नुकसान (patanjali safed musli ke nuksan) इस प्रकार हो सकते हैं। 

  • पतंजलि सफेद मूसली का अधिक सेवन करने से पेट की समस्याएं बढ़ सकती है और इससे पाचन भी कमजोर हो सकता है। 
  • सफेद मूसली के सेवन से शरीर में शुगर का स्तर घट सकता है, ऐसे में लो शुगर के मरीजों को इसके सेवन से बचना चाहिए।
  • इसके अधिक सेवन से भूख न लगने की समस्या भी हो सकती है।
  • गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इसके सेवन से बचना चाहिए, या फिर अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए। 
  • इसके अलावा किसी भी गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति जो पहले से किसी तरह की अन्य दवा का सेवन कर रहा हो उसे भी इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए। 

पतंजलि सफेद मूसली की कीमत – Patanjali Safed Musli Price in Hindi

  • 100 ग्राम पतंजलि श्वेत मूसली चूर्ण का प्राइस लगभग 325-350 रुपए के आसपास रहता है।
  • आप इसे अपने नजदीकी पतंजलि स्टोर से खरीद सकते हैं। 
  • साथ ही आप इसे ऑनलाइन पतंजलि आयुर्वेदा की वेबसाइट या अमेजॉन से भी खरीद सकते हैं।

पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण के विकल्प 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – FAQ

Q. क्या सफेद मूसली से बॉडी बनती है?

Ans.बॉडी बनाने के लिए एक्सरसाइज और अच्छी डाइट सबसे अहम होती है। अगर आप इन दोनों चीजों के साथ इसका सेवन करेंगे तो आपको जरूर लाभ मिल सकता है। काफी बॉडी बिल्डर इसका इस्तेमाल करते हैं।

Q. पतंजलि सफेद मूसली को कैसे खाएं?

Ans. इसे आप गुनगुने दूध के साथ ले सकते हैं। एक गिलास दूध को उबालकर उसे थोड़ा ठंडा होने दे और उसके बाद उसमें एक छोटा चम्मच सफेद मूसली चूर्ण मिलाएं और आराम से बैठकर इसका सेवन करें। स्वाद के लिए आप इसमें शहद भी मिक्स कर सकते हैं।

Q. क्या सफेद मूसली, अश्वगंधा और सतवारी चूर्ण को मिक्स करके ले सकते हैं?

Ans. सफेद मूसली, अश्वगंधा और सतवारी चूर्ण को मिक्स करके भी लिया जा सकता है लेकिन ऐसा आपको किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह से ही करना चाहिए। इससे शरीर को नुकसान भी हो सकता है।

Q. क्या पतंजलि सफेद मूसली चूर्ण को पानी के साथ भी ले सकते हैं?

Ans. जी हाँ, आप इसे हल्के गुनगुने पानी के साथ भी ले सकते हैं। जिन लोगों को दूध हजम नहीं होता वो पानी के साथ इसे ले सकते हैं।

Q. क्या महिलाएं सफेद मूसली का सेवन कर सकती हैं?

Ans. जी हाँ, महिलाएं भी सफेद मूसली का सेवन कर सकती है। महिलाओं को काफी समस्याओं में इससे लाभ मिल सकता है, खासकर ल्यूकोरिया की समस्या के लिए यह बेहद फायदेमंद माना जाता है।

निष्कर्ष – Conclusion 

पतंजलि सफेद मूसली के फायदे, उपयोग और नुकसान जानने के बाद कहा जा सकता है की हेल्थ के लिए यह काफी फायदेमंद आयुर्वेदिक दवा है। ज्यादातर लोगों को लगता है की सफेद मूसली का उपयोग केवल सेक्स से जुड़ी समस्याओं के उपचार में ही किया जाता है, लेकिन ऐसा नहीं है इसके अलावा भी सफेद मूसली के कई फायदे भी हैं, जिनके बारे में हमने ऊपर आर्टिकल में जाना। 

उम्मीद है की आपको Patanjali Safed Musli Ke Fayde Nuksan के विषय में यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपके मन में कोई सवाल हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं, हमें आपके सवालों का जवाब देने में खुशी होगी। साथ ही आप इस आर्टिकल को अन्य लोगों के साथ भी शेयर कर सकते हैं। 

Disclaimer : यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या डॉक्टरी सलाह का विकल्प नहीं हो सकता। इजी लाइफ हिंदी इनकी पुष्टि नहीं करता है, इस तरह के किसी भी उपचार, दवा, डाइट इतियादी पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें, किसी भी नुकसान के लिए इजी लाइफ हिंदी जिम्मेदारी नहीं लेगा।

आपके लिए कुछ खास आर्टिकल

इस आर्टिकल को शेयर करें

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

Leave a Comment

close button