11 बेस्ट पतंजलि दवा मोटा होने और वजन बढ़ाने के लिए | Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

मोटा होने की दवा पतंजलि (patanjali mota hone ki dawa hindi) : वजन बढ़ाने के लिए नेचुरल डाइट सबसे अच्छा विकल्प होता है। अच्छे खानपान से बढ़ाया गया वजन सबसे उत्तम माना जाता है, इसलिए आहार विशेषज्ञ भी वजन बढ़ाने के लिए नेचुरल डाइट को ही सबसे ज्यादा महत्व देते हैं। दुबलापन दूर करने के लिए एक अच्छी डाइट के साथ कुछ आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी फायदेमंद हो सकता है। पतंजलि आयुर्वेदा के ऐसे बहुत से आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स है जो वजन बढ़ाने में मददगार होते हैं।

आज हम आपको मोटा होने की पतंजलि दवा (patanjali mota hone ki dawa hindi) के बारे में बताएंगे और जनेंगे कि पतंजलि की वह कौन कौन से प्रोडक्ट है, जो वजन बढ़ाने में सहायक होते हैं और इनका इस्तेमाल कब और कैसे करना चाहिए। साथ ही वजन बढ़ाने के टिप्स और कुछ उपयोगी घरेलू उपायों के बारे में भी जानेंगे।

 पतंजलि मोटा होने की दवा – Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

11 बेस्ट पतंजलि दवा मोटा होने और वजन बढ़ाने के लिए | Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi

अपने पिछले आर्टिकल सेहत कैसे बनाये में हमने आपको संक्षेप में बताया कि घर मे रहकर, थोड़ी बहुत एक्सरसाइज और खानपान का ध्यान रखकर आप एक अच्छा और आकर्षक शरीर कैसे बना सकते हैं।

साथ ही इस आर्टिकल में हमनें आपको सेहत बनाने और वजन बढ़ाने के लिए घर का बना खाना खाने की ही सलाह दी थी और साथ मे कुछ वजन बढ़ाने वाले फूड्स के बारे में भी बताया था। साथ ही हमनें आपको यह भी बताया था कि आपको वजन बढ़ाने की दवा का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

वजन बढ़ाने की ज्यादातर दवाइयों में हानिकारक तत्वों का इस्तेमाल किया जाता है, इन दवाइयों के सेवन से कुछ समय के लिए वजन बढ़ तो जाता है, लेकिन जैसे ही आप इनका सेवन बंद करेंगे, आपका वजन दोबारा से कम होने लग जाएगा।

साथ ही इन दवाइयों के बहुत से साइड इफेक्ट्स भी होते हैं, यह लिवर को कमजोर बनाती हैं, बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं तथा इनके सेवन से त्वचा संबंधी रोग भी होने लगते हैं।

लेकिन आज हम आपको जो मोटा होने की पतंजलि दवा (patanjali mota hone ki dawa hindi) बता रहे हैं, ये पूर्ण तरीके से सुरक्षित है और इनका किसी भी तरह का कोई भी साइड इफेक्ट्स नहीं है। लेकिन इनमें से कुछ दवाइयों का सेवन भी आपको डॉक्टर की सलाह के बाद ही करना चाहिए।

पतंजलि वजन बढ़ाने की दवा (patanjali mota hone ki dawa hindi) शरीर की कमजोरी और दुर्बलता का दूर करने में सहायक होती हैं, इनके इस्तेमाल से पाचन शक्ति मजबूत होती हैं, खाया पिया शरीर में लगता हैं और मसल बनाने में मदद मिलती हैं। इनके इस्तेमाल से आप अपना वजन तेजी से बढ़ा सकते हैं।

वजन आपका सिर्फ भोजन से ही बढ़ सकता हैं, पतंजलि वजन बढ़ाने की दवा (patanjali vajan badhane ki dawa) केवल वजन बढ़ाने में आपकी मदद करेगी। अगर आप सोचे कि केवल इन प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से ही वजन बढ़ जाएगा, तो ऐसा नहीं हैं। 

वजन बढ़ाने के लिए आपको इन दवाइयों के साथ साथ एक पोस्टिक भोजन भी अवश्य करना पड़ेगा, तभी आपका वजन बढ़ सकता हैं। मोटा होने की दवा पतंजलि (patanjali mota hone ki dawa hindi) के विषय में जानने के लिए आगे पढ़ें।

मोटा होने की दवा पतंजलि (पतंजलि वजन बढ़ाने की दवा) – Patanjali Vajan Badhane Ki Dawa

अगर आप मोटा होने का तरीका ढूंढ रहे हैं, तो आपको पतंजलि वजन बढ़ाने की दवा (patanjali vajan badhane ki dawa) के बारे में अवश्य पता होना चाहिए। जैसा कि हम जानते हैं कि पतंजलि अपने आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स के लिए दुनियाभर में प्रशिद्ध हैं, इसलिए आप बेहिचक होकर इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

1. मोटा होने का पाउडर पतंजलि – अश्वगंधा पाउडर

patanjali ashwagandha

अश्वगंधा एक प्राचीन आयुर्वेदिक हर्ब हैं जिसके हज़ारों लाभ हैं। जिनमें से कुछ लाभ इस प्रकार हैं 

  • इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होता हैं।  
  • शारीरिक दुर्बलता दूर करने में सहायक होता हैं।
  • वजन बढ़ाने में लाभकारी होता हैं।
  • शरीर में एनर्जी और स्टैमिना बढ़ाने में मददगार होता हैं।
  • शरीर से आलस और थकान दूर करने में सहायक होता हैं। 
  • सेक्सुअल समश्याओं को दूर करने के लिए गुणकारी माना जाता हैं।

अश्वगंधा के सेवन से शरीर का दुबलापन और कमजोरी दूर होती हैं, पाचन तंत्र मजबूत होता हैं, बॉडी में जान आती हैं, ताकत बढ़ती हैं, स्टैमिना बढ़ता हैं, खाया पिया शरीर मे लगने लगता हैं, मसल्स बढ़ती हैं और शरीर का साइज बढ़ता हैं। बहुत से बॉडी बिल्डर भी इसका सेवन करते हैं।

वजन बढ़ाने में कैसे मददगार हैं –   

अश्वगंधा शरीर में टेस्टोस्टेरोन नामक हार्मोन के स्तर को बढ़ाने का कार्य करता हैं। टेस्टोस्टेरोन शरीर का सेहत बनाने, मसल्स बनाने और सेक्सुअल पावर बढ़ाने में सहायक होता हैं। बॉडी बिल्डिंग से जुड़े लोग टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के बारे में अवश्य जानते होंगे, या कभी न कभी आपने इसका नाम अवश्य सुना होगा।

पतंजलि अश्वगंधा इस्तेमाल करने का तरीका  –  

एक गिलास गुनगुने दूध में एक छोटा चम्मच पतंजलि अश्वगंधा पाउडर अच्छे से मिक्स करें और फिर इसका सेवन करें। अगर आपको दूध पसंद नहीं हैं तो आप गुनगुने पानी के साथ भी इसका सेवन कर सकते हैं। साथ ही पतंजलि अश्वगंधा टेबलेट के रूप में भी उपलब्ध हैं आप चाहे तो उसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। 

मोटा होने के लिए पतंजलि अश्वगंधा (पतंजलि मोटा होने की दवा) का सेवन रात को खाना खाने के बाद करना लाभकारी होता हैं। साथ ही इसके इस्तेमाल से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह भी अवश्य लेनी चाहिए।

यह भी पढ़े – पतंजलि अश्वगंधा के फायदे, उपयोग, खुराक और नुकसान

2. वजन बढ़ाने की दवा पतंजलि – सतावरी चूर्ण

patanjali shatavar churna

पतंजलि मोटा होने की दवा (patanjali mota hone ki dawa hindi)  में अगला बेहतरीन प्रोडक्ट सतावरी चूर्ण है। सतावरी चूर्ण शरीर की कमजोरी दूर करके शरीर का वजन बढ़ाने और शरीर के अविकसित अंगों को विकसित करने में मदद करता हैं।

इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल लड़के और लड़कियां दोनों ही कर सकते हैं, लड़कियों के लिए यह प्रोडक्ट ज्यादा लाभकारी हैं। वजन बढ़ाने के साथ साथ सतावरी चूर्ण अंदरूनी अंगों को विकसित करने में भी लाभकारी होता हैं। 

सतावरी चूर्ण इस्तेमाल करने का तरीका –

सतावरी चूर्ण का सेवन दूध के साथ किया जाता हैं। एक गिलास गुनगुने दूध में 3 से 5 ग्राम सतावरी चूर्ण मिक्स करके इसका सेवन किया जाता हैं। अगर आपको दूध पसंद नहीं हैं तो आप गुनगुने पानी के साथ भी इसका सेवन कर सकते हैं। पतंजलि की मोटा होने की दवा (patanjali mota hone ki dawa) में सतावरी चूर्ण का इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह से ही करें।

यह भी पढ़े – पतंजलि शतावरी चूर्ण के फायदे और नुकसान

3. मोटा होने की पतंजलि दवा – पावरवीटा 

patanjali powdervita

पतंजलि वजन बढ़ाने के दवा (patanjali vajan badhane ki dawa) में पावर वीटा भी एक बेहतरीन प्रोडक्ट हैं। अगर आपने कभी बॉर्नविटा, हॉर्लिक्स या बूस्ट जैसे हेल्थ ड्रिंक का इस्तेमाल किया होगा तो आपको बता दें, पतंजलि पावर वीटा भी कुछ हद तक इन्हीं प्रोडक्ट्स की तरह ही हैं। कंपनी का दावा हैं की इसे पूरी तरह आयुर्वेदिक तरीके से बनाया गया हैं।  

पतंजलि पावर वीटा में विटामिन B, विटामिन A, विटामिन C, विटामिन D, कैल्शियम, आयरन और ज़िंक जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। यह पोषक तत्व शरीर के विकास के लिए उपयोगी होते हैं। शरीर में एनर्जी और स्टैमिना बढ़ाने, इम्युनिटी पावर बढ़ाने, शरीर की कमजोरी दूर करने और डिजेस्टिव सिस्टम को मजबूत बनाने में यह पोषक तत्व लाभकारी होते हैं।

पतंजलि पावर वीटा सेवन करने का तरीका –  

पतंजलि पावर वीटा का सेवन दूध के साथ किया जाता हैं। एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच पावर वीटा पाउडर मिक्स करें और उसके बाद इसका सेवन करें। इसका सेवन आप सुबह के नाश्ते में कर सकते हैं। 

4. मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा – च्यवनप्राश

patanjali chyawanprash

पतंजलि च्यवनप्राश एक आयुर्वेदिक उत्पाद हैं जिसे कई सारी जड़ी बूटियों से मिलकर बनाया जाता हैं। पतंजलि च्यवनप्राश शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के साथ साथ शरीर का आलस और कमजोरी दूर करने में भी लाभकारी होता हैं। इसके इस्तेमाल से शरीर को कई सारे विटामिन्स और मिनरल्स मिलते हैं, जो शारीरिक विकास में मददगार होते हैं। 

पतंजलि च्यवनप्राश मसल्स बनाने, हड्डियों को मजबूत बनाने, पाचन तंत्र को तंदरूस्त बनाने और शरीर की कमजोरी दूर करने में सहायक होता हैं। साथ ही जिन लोगों को भूख कम लगती हैं उनके लिए भी यह एक बेहतरीन आयुर्वेदिक प्रोडक्ट हैं, इसके सेवन से भूख भी बढ़ती हैं।     

वजन बढ़ाने ( vajan badhane ki dawa patanjali) और रोगों से दूर रहने के लिए आप रोज सुबह या शाम एक चम्मच पतंजलि च्यवनप्राश का सेवन कर सकते हैं। 

5. पतंजलि की मोटा होने की दवा – यष्टिमधु

पतंजलि यष्टिमधु एक गुणकारी जड़ी बूटी हैं, जिसे मुलेठी के नाम से भी जाना जाता हैं। ज्यादातर इसका इस्तेमाल सर्दी खांसी को ठीक करने के लिए किया जाता हैं। 

साथ ही यष्टिमधु के नियमित सेवन से पाचन तंत्र भी मजबूत होता हैं। वजन बढ़ाने और मोटे होने के लिए पाचन तंत्र का मजबूत होना बहुत आवश्यक हैं। कुछ लोगों का पाचन तंत्र बहुत ज्यादा कमजोर होता हैं जिसकी वजह से उनके शरीर में खाया पिया नहीं लग पाता हैं।

जबकि पाचन तंत्र मजबूत होने से  शरीर में खाया पिया लगने लगता हैं और भोजन से प्राप्त पोषक तत्व शरीर को मिलने लगते हैं। पाचन तंत्र को मजबूत करने और शरीर का वजन बढ़ाने के लिए पतंजलि यष्टिमधु (patanjali vajan badhane ki dawa) एक बेहतरीन प्रोडक्ट हैं। साथ ही इसके इस्तेमाल से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह भी अवश्य लेनी चाहिए। 

6. पतंजलि मोटा होने की दवा – गाय का घी

पतंजलि मोटा होने की दवा (patanjali mota hone ki dawa hindi) में पतंजलि गाय का घी भी एक बेहतरीन प्रोडक्ट हैं। मोटा होने, वजन बढ़ाने, मसल्स बनाने और शारीरिक शक्ति मजबूत बनाने के लिए हमारे देश में घी का प्राचीन समय से ही इस्तेमाल किया जाता रहा हैं। आपने अक्सर उम्रदराज लोगों को भी घी खाने की सलाह देते हुए जरूर देखा होगा। 

गाय के घी के अनेक फायदे हैं मगर सबसे ज्यादा मुश्किल गाय क शुद्ध घी ढूंढ़ने में होती हैं। आजकल बाजार में मौजूद ज्यादातर घी में मिलावट होती हैं, जिस कारण से घी के लाभ शरीर को पूरी तरह से नहीं मिल पाते हैं। जबकि बाबा रामदेव के अनुसार पतंजलि गाय का घी पूरी तरह से नेचुरल हैं।

वजन बढ़ाने के लिए में हम आपको सबसे पहले घर में तैयार किया हुआ शुद्ध घी लेने की सलाह ही देंगे, पतंजलि घी दूसरा ऑप्शन है। घी का इस्तेमाल आप कई तरीकों से कर सकते हैं। घी को सब्जी, चावल या दाल के साथ ले सकते हैं या फिर रोटी के ऊपर घी लगाकर खा सकते हैं। साथ ही दूध के साथ भी घी मिक्स करके पीने से शरीर की ताकत और शक्ति बढ़ती हैं।  

7. पतंजलि की मोटा होने की दवा – शिलाजीत

patanjali shilajit

पतंजलि मोटा होने की दवा ( patanjali vajan badhane ki dawa) में शिलाजीत भी एक बेहतरीन प्रोडक्ट हैं और इसका इस्तेमाल भी शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता हैं। शिलाजीत के सेवन से शरीर में टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ता हैं, एनीमिया की शिकायत दूर होती हैं, शरीर की कमजोरी दूर होती हैं और यौन शक्ति बढ़ती हैं। 

जिन लोगों का सवाल होता हैं की बॉडी कैसे बनाये या बॉडी बनाने के लिए क्या करना चाहिए, उन्हें अपनी डाइट में शिलाजीत को शामिल जरूर करना चाहिए। शिलाजीत के सेवन से शरीर में टेस्टोस्टेरॉन का लेवल बढ़ता हैं। टेस्टोस्टेरॉन मांसपेशियों के विकास और यौन शक्ति के विकास के लिए एक जरूरी हार्मोन होता हैं।

8. पतंजलि बादाम पाक

patanjali badam pak

बादाम पाक आयुर्वेद फोर्मुले से तैयार किया जाने वाला एक बेहतरीन उत्पाद है। यह वजन बढ़ाने, शरीर की कमजोरी दूर करने व शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने में सहायक होता है। इसमें बादाम, जावित्री, केसर, जायफळ, अभ्रक भस्म, लौह भस्म, गाय का घी व मिश्री जैसे कई नेचुरल सामग्रियों का इस्तेमाल किया जाता है।

यह भी पढ़े – पतंजलि बादाम पाक के फायदे और सेवन विधि

9. मोटे होने के पतंजलि दवा – पतंजलि ड्राई फ्रूट्स

वजन बढ़ाने के लिए पतंजलि के ड्राई फ्रूट्स जैसे बादाम, किशमिश और छुहारे भी काफी लाभकारी हैं, आप इन्हें भी अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। ड्राई फ्रूट्स में वसा और प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पाया जाता हैं, जो वजन बढ़ाने में मददगार होते हैं। ध्यान रहे की बहुत ज्यादा मात्रा में भी ड्राई फ्रूट्स का सेवन नहीं करना चाहिए, इनकी तासीर गर्म होती हैं जिससे शरीर को नुकसान हो सकता हैं। 

10. मोटा होने की पतंजलि दवा – पतंजलि ओट्स

patanjali oats

पतंजलि ओट्स कार्बोहायड्रेट और प्रोटीन का बेहतरीन सोर्स हैं। इसका सेवन आप सुबह नाश्ते में कर सकते हैं। वजन बढ़ाने के लिए यह एक बेहतरीन प्रोडक्ट (patanjali vajan badhane ki dawa) हैं और काफी सस्ता भी हैं।   

11. मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा   – पतंजलि स्वेत मूसली चूर्ण

पतंजलि स्वेत मूसली या सफेद मूसली को एक ताकतवर जड़ी बूटी (patanjali mota hone ki dawa hindi)माना जाता हैं और आयुर्वेद में भी इसके फायदों क वर्णन मिलता हैं। इसमें प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट, विटामिन और मिनरल मौजूद होते हैं, जो वजन बढ़ाने में सहायक होते हैं। 

मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा – Vajan Badhane Mota Hone ki Ayurvedic Dawa

Vajan Badhane Mota Hone ki Ayurvedic Dawa

1. मोटे होने की आयुर्वेदिक दवा है केला 

केला मोटा होने की आयुवर्दिक दवा (mote hone ki ayurvedic dawa) हैं जो साल के 12 महीने उपलब्ध रहता हैं। केला वजन बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा कारगर माना जाता हैं, इसमें कार्बोहायड्रेट, विटामिन सी, आयरन और फाइबर जैसे तत्व मौजूद होते हैं, जो वजन बढ़ाने में सहायक हैं।

वजन बढ़ाने के लिए केला का इस्तेमाल कई तरीकों से किया जा सकता हैं। केले का शेक बना सकते हैं, ओटस या दलिया में केले का इस्तेमाल कर सकते हैं, केला दूध के साथ खा सकते हैं या फिर केला को पीनट बटर के साथ खा सकते हैं। किसी भी रूप में केले को ज्यादा से ज्यादा अपनी डाइट में शामिल करें।

यह भी पढ़े : आयुर्वेद के अनुसार केला खाने का सही समय और सही तरीका क्या हैं

2. मोटे होने की दवा है मुनक्का 

मोटा होने के लिए (mota hone ki ayurvedic dawa) मुनक्का सबसे कारगर होते हैं, यह शरीर में आयरन की कमी को दूर करके ब्लड बनाने में भी मददगार होते हैं, अगर नियमित मुनक्का का सेवन किया जाए तो शरीर मे कभी भी खून की कमी नहीं हो सकती।

वजन बढ़ाने के लिए रात को 20 से 25 ग्राम मुनक्का को पानी मे भिगोकर रख दें और अगली सुबह सबसे पहले मुनक्का को छानकर इसका पानी पिएं। उसके बाद छाने हुए मुनक्का को एक गिलास दूध के साथ गर्म कर लें और यह दूध पिएं, साथ ही मुनक्का चबा चबाकर खाएं

3. वजन बढ़ाने की दवा है साबूदाना खीर 

वजन बढ़ाने के लिए आप रोज सुबह के नाश्ते में एक कटोरी साबूदाना की खीर भी ले सकते हैं। साबूदाना कार्बोहाइड्रेट के मुख्य स्रोत हैं, जो वजन बढ़ाने में सहायक हैं। साबूदाना खीर बनाते समय इसमें कुछ ड्राई फ्रूट्स भी जरूर मिक्स करें और इस खीर में चीनी की जगह पतंजलि मधुरम या धागे वाली मिश्री का इस्तेमाल करें।

4. मोटे होने के लिए मीठा आलू 

मीठा आलू जिसे शकरकंद भी कहा जाता हैं, कार्बोहायड्रेट का एक मुख्य स्रोत हैं, आप वजन बढ़ाने (vajan badhane ki ayurvedic medicine) के लिए इसका इस्तेमाल भी कर सकते हैं। मीठा आलू ज्यादातर सर्दियों के मौसम में उपलब्ध रहता हैं। आप चाहे तो इसकी जगह सामान्य आलू भी उबालकर खा सकते हैं, उबले आलू को दही के साथ मिक्स करके खाने से भी वजन तेजी से बढ़ता हैं।

5. तेजी से वजन बढ़ाता है आम 

आम भी मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा (mote hone ki ayurvedic dawa) हैं, यह ज्यादातर गर्मियों के मौसम में पाया जाता हैं। वजन बढ़ाने के लिए आप गर्मियों के मौसम में रोज आम का सेवन कर सकते हैं या फिर आम का शेक बनाकर पी सकते हैं।

6. मोटे होने की दवा दूध से बनी सभी चीजें 

दूध और दूध से बनी चीजें जैसे पनीर, घी, दही, लस्सी आदि भी मोटा होने की आयुर्वेदिक दवा (vajan badhane ki ayurvedic dawa) हैं। दूध से बनी चीजों में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और कैल्शियम पाया जाता हैं जो शारीरिक वृद्धि के लिए आवश्यक होते हैं। साथ ही दूध और दूध से बनी चीजों में ज्यादा मात्रा में कैलोरी होती हैं, जो वजन बढ़ाने में सहायक होती हैं। (दही खाने का सही समय और सही तरीका)

7. वजन बढ़ाने में सहायक है दलिया

वजन बढ़ाने और मोटा होने के लिए (vajan badhane ki ayurvedic medicine) दलिया भी काफी कारगर होता, वजन बढ़ाने के लिए हमेशा ही दलिया खाने की सलाह दी जाती हैं। दलिया में उच्च क्वालिटी का कार्बोहाइड्रेट होता हैं, जो वजन बढ़ाने में मदद करता हैं। दलिया का सेवन आप सुबह नाश्ते में या दिन में किसी भी समय कर सकते हैं। 

8. मोटे होने के लिए खाएं भूरे चावल 

भूरे चावल में उच्च किस्म का कार्बोहाइड्रेट (काम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट) पाया जाता हैं, जो वजन बढ़ाने में काफी सहायक होता हैं। सफेद चावल की जगह आपको भूरे चावल का सेवन करना चाहिए। भूरे चावल का सेवन आप दाल या सब्जी किसी के साथ भी कर सकते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए कुछ अन्य टिप्स 

1. वजन बढ़ाने के लिए एक संतुलित डाइट बहुत जरूरी होती हैं। आपकी डाइट में प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट और वसा पर्याप्त मात्रा में होने चाहिए। 

2. वजन बढ़ाने और मोटा होने के लिए एक्सरसाइज और योग भी जरूरी होता हैं, थोड़ा समय निकालकर आप घर पर भी एक्सरसाइज कर सकते हैं। 

3. वजन बढ़ाने के लिए अक्सर लोग कुछ भी खा लेते हैं, आपको ऐसा नहीं करना हैं फास्ट फूड और ज्यादा ऑयली फूड से दूर ही रहें। 

4. मोटा होने के लिए कोई शॉर्टकट तरीका न अपनाए, नेचुरल तरीके से ही वजन बढ़ाए।  

5. वजन बढ़ाने के लिए थोड़ा धैर्य रखे, नेचुरल तरीके से वजन बढ़ने में थोड़ा समय लग सकता हैं, इसलिए निराश होकर डाइट और एक्सरसाइज बीच में ही न छोड़ दें।

सारांश – Summery

ये कुछ मोटे होने की पतंजलि की दवा (patanjali vajan badhane ki dawa) और घरेलू उपाय थे जिनकी मदद से आप अपना वजन बढ़ा सकते हैं। साथ ही ध्यान दें की इन दवाइयों का इस्तेमाल आप डॉक्टर की सलाह से ही करें। 

उम्मीद हैं की मोटा होने की दवा पतंजलि (patanjali mota hone ki dawa hindi) का यह पोस्ट आपको पसंद आया होगा और इससे आपको अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी। वजन बढ़ाने और मोटे होने के विषय में आप हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आपके लिए कुछ उपयोगी पोस्ट

Share This Article

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

2 thoughts on “11 बेस्ट पतंजलि दवा मोटा होने और वजन बढ़ाने के लिए | Patanjali Mota Hone Ki Dawa Hindi”

    • suraj, aap apne khane peene ke upar dhyan de or ek baar apni body ka check-up bhi jarur kara le, isse aapko pata lag jaega ki kis karan aapka weight nahi badh pa raha hain. iske sath hi aap exercise kare or apne khane peene ke upar visehs dhyan de, chinta or tanav se door rahe
      .

      Reply

Leave a Comment

close button