जिम करने की सही उम्र क्या है (13, 15 या 18) | Gym Karne Ki Sahi Age Kya Hai

जिम करने की सही उम्र क्या है (Gym Karne Ki Sahi Age Kya Hai) | आज के समय में जिम जाना एक ट्रेंड बन चुका है। लड़के हो या लड़कियां हर कोई खुद को फिट रखने के लिए जिम में पसीना बहाना पसन्द कर रहा है। लेकिन जिम जॉइन करने को लेकर लोगों के मन में कई सवाल होते हैं, जिसमें सबसे पहला सवाल रहता है कि जिम करने की सही उम्र क्या है? अगर आप किशोरावस्था में प्रवेश कर चुके हैं और जिम करने के बारे में सोच रहे हैं, तो आपके मन में भी यह सवाल जरूर घूम रहा होगा। 

हमनें अपने पिछले आर्टिकल में जिम करने के फायदे और नुकसान के बारे में बताया था, जिसमें कई लोगों ने हमसे जिम करने की सही उम्र क्या है? से संबंधित कई सवाल पूछे, इस सवाल का जवाब एक लाइन में देना मुश्किल हो रहा था। तब जाकर लगा कि इस विषय के ऊपर भी हमें संक्षेप में एक आर्टिकल लिखना चाहिए, ताकि जिम करने की सही ऐज (gym karne ki sahi age) को लेकर लोगों की सारी कंफ्यूजन दूर हो जाए।

जिम करने की सही उम्र क्या है – Gym Karne Ki Sahi Age Kya Hai

gym workout

जैसा कि हम सब जानते है कि जिम जाना कोई खराब चीज नहीं है, हर बच्चे के परिजन चाहेंगे कि उनका बच्चा शारीरिक तौर पर फिट और स्वस्थ रहे और इसके लिए जिम में एक्सरसाइज करने से अच्छा और क्या हो सकता है, यह खुद को फिट रखने के बेस्ट ऑप्शन में से एक है। 

आजकल जिम जाना एक ट्रेंड बन चुका है, जिसके चलते 15-16 साल के बहुत से बच्चे भी जिम जॉइन करने के बारे में सोचते हैं। लेकिन जब वे इस विषय में आपने माता-पिता या किसी बड़े से बात करते हैं, तो उन्हें अक्सर यह बताया जाता है कि “अभी जिम जाना तुम्हारे लिए सही नहीं होगा, इससे तुम्हारी बॉडी की ग्रोथ रुक सकती है”। ऐसे में मन में एक ही सवाल आता है तो फिर जिम करने की सही उम्र क्या है?

आप में से बहुत से लोगों ने भी यह लाइन जरूर सुनी होगी। लेकिन क्या कभी आपने जानने की कोशिश की है कि आखिर जिम जाने से बॉडी की ग्रोथ कैसे रुक सकती है और इस उम्र में जिम क्यों नहीं जाना चाहिए। आइये इसके बारे में विस्तार से जानते हैं।

यह बात सही है कि बच्चों को जिम में हैवी वर्कआउट नहीं करना चाहिए, क्योंकि इस उम्र में बच्चों की मसल्स और हड्डियां सही से विकसित नहीं हुई होती है। जिस कारण हैवी वर्कआउट करने से चोट का खतरा ज्यादा रहता है। लेकिन उसका यह मतलब नहीं कि आप जिम जॉइन नहीं कर सकते, जिम में हैवी वर्कआउट के अलावा भी कई सारी एक्सरसाइज की जा सकती है।   

यह भी पढ़े : बॉडी कैसे बनाये – बॉडी बनाने का तरीका और बेस्ट एक्सरसाइज

जिम करने की सही Age क्या है – Gym Karne Ki Sahi Age

fit rahne ka tarika, upay, tips

18 साल के बाद बॉडी पूरी तरह से परिपक्व (mature) और मजबूत हो जाती है और यह जिम करने की सबसे सही उम्र होती है। इस उम्र में आप जिम जॉइन करके ट्रेनर की देख-रेख में जिम में किसी भी प्रकार का वर्कआउट कर सकते हैं। यह उम्र मसल्स की ग्रोथ के लिहाज से भी अच्छी होती है, क्योंकि इस उम्र में पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर भी अच्छा रहता है। साथ ही इस उम्र में शरीर भी ऊर्जा से भरा रहता है। 

लेकिन इसका यह मतलब नहीं की आप 18 साल से पहले जिम ज्वाइन नहीं कर सकते। अगर आपकी उम्र 15-17 के बीच है तो भी आप जिम ज्वाइन कर सकते हैं। इस उम्र में भी ट्रेनर की देख-रेख में कुछ बॉडी पार्ट्स की हल्की-फुल्की एक्सरसाइज की जा सकती है, साथ ही आप जिम में बॉडी स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज, जुंबा, कार्डिओ व योगा भी कर सकते हैं।   

18 साल से पहले एक्सरसाइज क्यों जरुरी है? 

एक्सरसाइज या फिजिकल एक्टिविटी हर उम्र के इंसान के लिए जरुरी होती है, फिर चाहे वह 12 साल का बचा हो या 80 का बुजुर्ग। अगर आपकी उम्र अभी 15-18 के बीच है तो आपको अपनी फिटनेस के ऊपर जरूर ध्यान देना चाहिए, इस उम्र में आप यह सोचकर न बैठे रहे की 18 या 20 के बाद ही हम एक्सरसाइज करना शुरू करेंगे। इस उम्र में जिम में भारी वजन उठाने के वजाए आपको ज्यादा से ज्यादा बॉडी स्ट्रेचिंग, स्विमिंग, साइकिलिंग, रनिंग और बॉडी वेट एक्सरसाइज पर ध्यान देना चाहिए। 

इन सब फिजिकल एक्टिविटी से आपकी बॉडी फिटनेस तो अच्छी रहेगी ही, साथ ही आप मेंटली भी फिट रहेंगे। आपका माइंड शार्प होगा जिसका लाभ आपको पढ़ाई में भी मिल सकता है। साथ ही इन सब से आपकी बॉडी ग्रोथ में भी एक अच्छा असर देखने को मिल सकता है। 

यह भी पढ़े : पिचके गाल फुलाने का तरीका, उपाय और दवा 

कौन-सी एक्सरसाइज करें? 

अब तक आपको समझ आ चूका होगा की जिम करने की सही उम्र क्या है (gym karne ki sahi age kya hai) और किस तरह एक्सरसाइज आपके लिए क्यों जरुरी है। अगर आपकी उम्र 18 साल से कम है तो आपको जिम में भारी वजन उठाने से बचना चाहिए, इसकी जगह आपको अन्य तरीके की एक्सरसाइज करनी चाहिए। ऐसी ही कुछ एक्सरसाइज इस प्रकार हैं। 

1. रनिंग (Running) 

18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए रनिंग बेस्ट एक्सरसाइज है। रनिंग करने से शरीर की मांसपेशियां मजबूत होती है, मोटापे का खतरा कम होता है और इससे शारीरक विकास में भी काफी मदद मिलती है। इस उम्र में रनिंग की आदत डालकर आप अपनी फिटनेस लाइफ को शीर्ष पर पहुंचा सकते हैं और आगे चलकर यह आदत आपके काफी काम आ सकती है, क्योंकि बॉडी को फिट और स्वस्थ रखने के लिए रनिंग से बेहतर कुछ नहीं हो सकता।

2. स्विमिंग (Swimming)

इस उम्र में आपके लिए स्विमिंग भी एक अच्छी एक्सरसाइज हो सकती है। अगर आपको पानी में खेलना पसंद है, तो आप इसे अपनी हॉबी भी बना सकते हैं। स्विमिंग सिखने के लिए यह उम्र सबसे बेस्ट होती है। स्विमिंग करने से शरीर का स्टैमिना बढ़ता है, मोटापे का खतरा कम होता है और मांसपेशियां भी मजबूत रहती है।  

3. साइकिलिंग (Cycling)

बच्चों को साइकिल चलाना काफी पसंद होता है, इसलिए यह एक्सरसाइज शायद आपके लिए सबसे ज्यादा सरल हो। दिन में 30 मिनट साइकिलिंग करके आप अपने शरीर को फिट रख सकते हैं। साइकिलिंग से पैरों को मजबूती मिलती है, मोटापा कम होता है, स्टैमिना बढ़ता है और इससे मस्तिष्क व ह्रदय भी स्वस्थ रहता है। 

4. पुल-अप्स (Pull Ups)

बच्चों के लिए पुल-अप्स भी एक अच्छी एक्सरसाइज है। शुरुआत में पुल-अप्स करना थोड़ा मुश्किल लग सकता है, लेकिन कोशिश करते रहने से आप एक दिन इसकी सही प्रैक्टिस सिख सकते हैं। पुल-अप्स न भी लगे तो खाली बार पर लटकना भी आपके लिए फायदेमंद हो सकता है, इससे हाइट बढ़ने में मदद मिल सकती है।

5. रस्सी कूदना (skipping rope)

रस्सी कूदना भी बेस्ट एक्सरसाइज में से एक है। इससे बॉडी की स्ट्रेंथ बढ़ती है, ज्यादा कैलोरी बर्न होती है जिससे मोटापा कम होता है, शरीर की सहनशक्ति बढ़ती है, दिल स्वस्थ रहता है और यह ब्रेन के लिए भी फायदेमंद होता है। 

 एक्सरसाइज करने के फायदे 

  • एक्सरसाइज करने से शारीरिक विकास में मदद मिल सकती है।
  • मोटापा, कोलेस्टॉल, शुगर और पेट की बीमारियों का खतरा कम होता है। 
  • ह्रदय संबंधी रोगों का खतरा भी काफी हद तक कम होता है। 
  • शरीर में कार्य क्षमता में इजाफा होता है। 
  • सुस्ती और आलस दूर होता है। 
  • तनाव कम होता है। 
  • सोचने की क्षमता और एकाग्रता में वृद्धि होती है। 
  • दिमाग के स्वास्थ्य के लिए भी एक्सरसाइज करना फायदेमंद होता है।  

डाइट को अनदेखा न करें   

फिजिकल एक्टिविटी के साथ-साथ अपनी डाइट का भी खास ख्याल रखें। अपने भोजन में उचित मात्रा में प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट और वसा को शामिल करें, साथ ही विटामिन व मिनरल्स से भरपूर भोजन करें। इस उम्र में बॉडी को ग्रोथ के लिए पोषक तत्वों की खास जरुरत होती है, इसलिए डाइट को अनदेखा बिल्कुल भी करें।  

अंत में ध्यान दें 

किसी भी एक्सरसाइज को एक्सपर्ट की देख-रेख में ही करना चाहिए। साथ ही एक्सरसाइज को करते समय शरीर के साथ किसी भी तरह की जोर जबरदस्ती न करें, अगर किसी एक्सरसाइज को करने में आपको दिक्कत महसूस होती हो तो इसके बारे में अपने ट्रेनर को जरूर बताएं।  

निष्कर्ष – Conclusion

इस आर्टिकल में हमने जिम करने की सही उम्र क्या है (gym karne ki sahi age kya hai) के बारे में जाना उम्मीद है की आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आपके मन में चल रहे सवालों दूर हुई होंगे। अगर फिर भी आपके मन में कोई सवाल हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं और इस तरह की जानकारियों के लिए हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं। साथ ही इस आर्टिकल को आप अन्य लोगों के साथ शेयर भी कर सकते हैं, जिससे उन तक ही सही जानकारी पहुँच सके। 

इस आर्टिकल को शेयर करें 

आपके लिए कुछ खास आर्टिकल

     

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

Leave a Comment

close button