पुदीन हरा के फायदे, खुराक और नुकसान | Pudin Hara Ke Fayde Nuksan Uses in Hindi

pudin hara ke fayde | Pudin hara tablet uses in hindi | आज हम एक ऐसे प्रोडक्ट के बारे में जनेंगे जिसका इस्तेमाल भारत में काफी लोगों द्वारा किया जाता हैं और शायद आप में से बहुत से लोगों ने भी कभी न कभी इसका सेवन किया होगा। हम बात कर रहे हैं पुदीन हरा की। पुदीन हरा एक आयुर्वेदिक दवा हैं जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से पेट से जुड़ी परेशानियों के लिए किया जाता हैं। पुदीन हरा के फायदे (pudin hara khane ke fayde) की बात करें तो इसके सेवन से गैस, एसिडिटी, कब्ज व अपच जैसी बीमारियों में राहत मिलती हैं और पेट स्वस्थ रहता हैं।

इस लेख में हम पुदीन हरा क्या हैं, पुदीन हरा के फायदे (pudin hara ke fayde), पुदीन हरा की खुराक, पुदीन हरा के उपयोग (pudin hara tablet uses in hindi) व पुदीन हरा के नुकसान (pudin hara side effects in hindi) के बारे में जानेंगे। साथ ही पुदीन हरा से जुड़े कुछ आम सवालों के बारे में भी जनेंगे।

पुदीन हरा क्या हैं | What is Pudin Hara in Hindi

पुदीन हरा (pudin hara in hindi) एक आयुर्वेदिक दवा हैं जिसका निर्माण भारत की प्रसिद्ध आयुर्वेदिक कंपनी डाबर द्वारा किया जाता हैं। पुदीन हरा में मुख्य रूप से पुदीना के गुण मौजूद होते हैं जो पेट से जुड़ी बीमारियों जैसे गैस, एसिडिटी, कब्ज, उल्टी, दस्त के लिए बेहद उपयोगी हैं। यह पूर्ण रूप से नेचुरल दवा हैं इसलिए इसका इस्तेमाल 5 साल से ऊपर के बच्चे भी कर सकते हैं।

डाबर पुदीन हरा कैप्सूल (pudin hara tablet) व सिरप (pudin hara liquid) दोनों रूप में उपलब्ध हैं। आप अपनी सुविधानुसार किसी का भी उपयोग कर सकते हैं। दोनों ही रूप में पुदीन हरा के फायदे (pudin hara ke fayde in hindi) एक समान हैं।

पुदीन हरा में शामिल मुख्य तत्व | Pudin Hara Ingredients in Hindi

पुदीन हरा पर्ल्स (टैबलेट) और पुदीन हरा एक्टिव लिक्विड (सिरप) दो रूप में उपलब्ध होता हैं। जिनमें मुख्य रूप से दो तत्वों का इस्तेमाल किया जाता है।

  • मेंथा पाइपरीता (Mentha Piperita)
  • मेंथा स्पीकता (Mentha Spicata)

यह दोनों ही हर्बल सप्लीमेंट हैं जो पुदीना के ही रूप हैं और पेट के लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं। सामान्य पुदीना की तुलना में ये काफी तेज होते हैं। डाबर पुदीन हरा के फायदे (dabur pudin hara ke fayde) और पुदीन हरा के उपयोग (pudin hara tablet uses in hindi) के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें।

Read More : डाबर दाल तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान

पुदीन हरा के फायदे | Pudin Hara Ke Fayde in Hindi | Dabur Pudin Hara Benefits in Hindi

pudin hara ke fayde

डाबर पुदीन हरा के फायदे इस प्रकार हैं।

1. गैस व एसिडिटी के लिए पुदीन हरा के फायदे

गलत खानपान और शारीरिक गतिविधि का आभव पेट की गैस की मुख्य वजह हैं। पेट की गैस दिखने में सामान्य बीमारी लगती हैं लेकिन कभी-कभार गैस के कारण पेट में इतनी तेज पीड़ा होती है कि मरीज को तुरंत हॉस्पिटल में भर्ती करना पड़ता हैं। ऐसे में पेट की गैस के लिए डाबर पुदीन हरा (dabur pudin hara in hindi) एक बेहतरीन दवा हैं और इसके सेवन से गैस में तुरंत आराम मिलता हैं। 

2. कब्ज के लिए पुदीन हरा टैबलेट के फायदे

कब्ज का मुख्य कारण भी गलत खानपान हैं। कब्ज की बीमारी में पेट ठीक से साफ नही हो पाता हैं जिस कारण कब्ज के मरीज को दिनभर परेशान रहना पड़ता हैं। पेट ठीक से साफ न हो पाने के कारण कब्ज के रोगी को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। इसे में पुदीन हरा के फायदे (pudin hara benefits in hindi) कब्ज की समस्या के लिए भी बेहतरीन हैं। हालांकि यह कब्ज का स्थायी इलाज नहीं हैं लेकिन फिर भी यह काफी हद तक कब्ज में लाभकारी हैं।

3. पेट में जलन के लिए पुदीन हरा सिरप के फायदे

फास्ट फूड, ऑयली फूड या तेज मसालेदार भोजन करने से कभी-कभार पेट में तेज जलन होने लगती हैं। ऐसे में पुदीन हरा सिरप या पुदीन हरा टैबलेट के सेवन से पेट की जलन को शांत किया जा सकता हैं। जब भी पेट में तेज जलन महसूस हो तब पुदीन हरा टैबलेट का उपयोग (pudin hara liquid uses in hindi) कर लें। साथ ही मसालेदार भोजन से दूर रहे।

4. दस्त व उल्टी के लिए पुदीन हरा गोली के फायदे

गलत खानपान के कारण दस्त व उल्टी की समस्या होना भी एक आम बात हैं। लेकिन कई बार यह समस्या गंभीर भी बन जाती हैं। ऐसे में इस समस्या से बचने के लिए भी पुदीन हरा के फायदे (pudin hara tablet ke fayde) बेहद अच्छे हैं। पुदीन हरा के सेवन से पेट को आराम मिलता हैं और दस्त व उल्टी की समस्या से निजात मिलता हैं। इसके लिए डाबर पुदीन हरा का सेवन भोजन के कुछ देर बाद ही करें, खाली पेट इसका सेवन न करें।

Read More : पतंजलि अश्वगंधा के 15 अध्भुत फायदे और सेवन का सही तरीका

5. पेट की गर्मी दूर करने में सहायक

बहुत ज्यादा गर्म तासीर की चीजों के सेवन से कई बार पेट में गर्मी बढ़ जाती हैं। पेट में गर्मी बढ़ने के कारण चेहरे पर कील, मुँहासे, मुंह में छाले, पेट में जलन, पेशाब में जलन, जी मचलाना, पेट का भारी रहना जैसी कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में पुदीन हरा टैबलेट का उपयोग (pudin hara tablet uses in hindi) बेहद लाभकारी होता हैं।

पुदीन हरा के सेवन से पेट को ठंडक मिलती हैं और पेट स्वस्थ रहता हैं। दरअसल, पुदीन हरा में पुदीना के गुण मौजूद होते हैं जो पेट को अंदर से ठंडक प्रदान करते हैं। इसके साथ-साथ पेट की गर्मी से बचने के लिए दिनभर खूब पानी पिएं और तरल चीजों का ज्यादा सेवन करें।

6. पाचन शक्ति के लिए लाभकारी | Dabur Pudin Hara Tablet Ke Fayde

डाबर पुदीन हरा खाने के फायदे (pudin hara khane ke fayde) की आगे बात करें तो इसके सेवन से पाचन शक्ति भी मजबूत होती हैं और भोजन सही से पचता हैं। पाचन शक्ति के मजबूत होने से पेट से जुड़ी आधे से ज्यादा बीमारियों में आराम मिलता हैं और शरीर में मोटापा भी नहीं बढ़ता। पाचन शक्ति मजबूत करने के लिए भोजन से कुछ देर बाद पुदीन हरा का सेवन किया जा सकता हैं।

7. खट्टी डकार के लिए डाबर पुदीन हरा के फायदे

दिनभर बारबार खट्टी डकार आना पेट के अस्वस्थ होने का एक संकेत होता हैं। जब भी खट्टी डकार आए तो समझ लें कि आपका पेट स्वस्थ नहीं हैं। इससे बचने के लिए आप पुदीन हरा का उपयोग (pudin hara uses in hindi) कर सकते हैं। पुदीन हरा भोजन को अच्छी तरह पचाने और पेट को अंदर से स्वस्थ रखने का काम करता हैं जिससे खट्टी डकार की समस्या भी दूर होती हैं।

8. पेट का भारीपन दूर करने में सहायक

देखा गया हैं कि कुछ लोग कई बार शादी, पार्टी या त्योहार के मौके पर बहुत ज्यादा ऑयली फूड्स, फास्ट फूड्स या भारी भोजन का सेवन कर लेते हैं, जिसे पचने में समय लगता हैं और इस कारण पेट बहुत ज्यादा भारी हो जाता हैं। ऐसे में पुदीन हरा के सेवन से तुरंत आराम मिलता हैं और पेट कुछ ही समय में हल्का होने लगता हैं।

इसलिए जब भी आपको ऐसा लगे कि आपने जरूरत से ज्यादा भोजन कर लिया हैं तो फिर उसके कुछ देर बाद पुदीन हरा टैबलेट (pudin hara tablet) का सेवन कर लें, इससे पेट में भारीपन नहीं होगा। इसका यह मतलब भी नहीं हैं कि आप रोज ही भारी भोजन कर लें।

Read More : डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान

पुदीन हरा टैबलेट का उपयोग | Pudin Hara Tablet Uses in Hindi

डाबर पुदीन हरा टेबलेट का उपयोग करने का तरीका इस प्रकार हैं।

  • व्यस्क के लिए – व्यस्क भोजन के 20-25 मिनट बाद डाबर पुदीन हरा की एक गोली का सेवन (pudin hara tablet uses in hindi) कर सकते हैं। दिन में दो या तीन गोली से ज्यादा सेवन न करें। 
  • बच्चों के लिए – 12 से 18 साल की उम्र के लोग दिन में एक बार डाबर पुदीन हरा की एक टैबलेट का सेवन (pudin hara tablet use in hindi) कर सकते हैं। 12 साल से कम उम्र के बच्चें इसका सेवन न करें।
  • बीमारी से जूझ रहे लोग –  किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोग जो पहले से किसी अन्य दवा का सेवन कर रहे हो, उन्हें पुदीन हरा का सेवन डॉक्टर की सलाह के बाद ही करना चाहिए।

पुदीन हरा सिरप का उपयोग | Pudin Hara Liquid Uses in Hindi

डाबर पुदीन हरा सिरप का उपयोग करने का तरीका (pudin hara liquid uses in hindi) इस प्रकार हैं।

  • व्यस्क के लिए – एक गिलास पानी में 10 से 20 बूँद पुदीन हरा सिरप मिक्स करके सेवन कर सकते हैं।
  • बच्चों के लिए – एक गिलास पानी में 5 से 10 बूँद पुदीन हरा सिरप मिक्स करके सेवन कर सकते हैं।

Note : किसी भी गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोगों को डॉक्टर की सलाह के बाद ही पुदीन हरा टैबलेट या पुदीन हरा सिरप का इस्तेमाल करना चाहिए।

पुदीन हरा के नुकसान | Pudin Hara Side Effects in Hindi

पुदीन हरा के फायदे (pudin hara ke fayde) और पुदीन हरा के उपयोग (pudin hara uses in hindi) जानने के बाद अब पुदीन हरा के नुकसान के बारे में भी जान लेते हैं। वैसे पुदीन का कोई गंभीर साइड इफ़ेक्ट नहीं हैं लेकिन कुछ परिस्थितयों में इसका उपयोग सेहत के लिए हानिकारक हो सकता हैं। डाबर पुदीन हरा के नुकसान इस प्रकार हैं।

  • पुदीन हरा की तासीर बहुत ज्यादा ठंडी होती हैं, ऐसे में ज्यादा ठंडी के मौसम में इसके सेवन से नुकसान हो सकता हैं।
  • पेट की समस्याओं के लिए अगर पुदीन हरा के सेवन से कोई परिणाम न मिले तो तुरंत डॉक्टर से चेकअप कराए।
  • इसके अधिक सेवन से सिर दर्द, उल्टी, दस्त व पेट दर्द जैसी कुछ समस्याएं हो सकती हैं।
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चों को पुदीन हरा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • गंभीर बीमारी से जूझ रहे लोग जो पहले से किसी अन्य दवा का सेवन कर रहे हो, उन्हें डॉक्टर की सलाह के बाद इसका सेवन करना चाहिए।

पुदीन हरा का उपयोग करने से पहले इन चीजों का ध्यान रखें 

  • पुदीन हरा (pudin hara in hindi) का सेवन नार्मल या हल्के गुनगुने पानी के साथ ही करना चाहिए।
  • जल्दी लाभ प्राप्त करने के चक्कर में इसका ज्यादा सेवन न करें। 
  • दिन में 2-3 टेबलेट से ज्यादा पुदीन हरा का सेवन करें।  
  • इसका सेवन लगातार भी न करें। जब भी पेट में कुछ गड़बड़ लगे तभी इसका सेवन करें।
  • अगर पुदीन हरा के सेवन से कोई परिणाम न मिले तो फिर डॉक्टर से संपर्क करें।
  • सुबह खाली पेट पुदीन हरा का सेवन न करें।
  • भोजन के 15-20 मिनट बाद ही इसका सेवन करें।

डाबर पुदीन हरा की कीमत | Dabur Pudin Hara Price in Hindi

  • डाबर पुदीन हरा एक्टिव लिक्विड 10ml और 30ml की बोतल में उपलब्ध हैं। इसके 10ml की बोतल का प्राइस लगभग 22 रुपए और 30ml बोतल का प्राइस लगभग 49 रुपए के आसपास हैं।
  • डाबर पुदीन हरा पर्ल्स यानि पुदीन हरा कैप्सूल की बात करें तो इसकी 10 कैप्सूल कीमत लगभग 25 रुपए के आसपास हैं। आप इसे Amazon से भी खरीद सकते हैं। 

निष्कर्ष

इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद अब आप पुदीन हरा के फायदे (pudin hara benefits in hindi), पुदीन हरा के उपयोग (pudin hara tablet uses in hindi) और पुदीन हरा के नुकसान (pudin hara side effects in hindi) बारे में जान ही चुके होंगे। बता दें की सभी लोगों की शारीरिक स्थिति अलग-अलग होती हैं जिस वजह से इसका प्रभाव भी सभी लोगों पर अलग हो सकता हैं, इसलिए अगर इसके सेवन से आपको परिणाम न मिले तो किसी प्रकार की जोर जबरदस्ती न करें। बेहतर होगा की पुदीन हरा का इस्तेमाल करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह लें और सही तरीके से इसका सेवन करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q. क्या बच्चे पुदीन हरा (pudin hara) का सेवन कर सकते हैं ?

A. 12 साल से ऊपर के बच्चे पुदीन हरा का सेवन कर सकते हैं, 12 साल से कम उम्र के बच्चों को इसके सेवन की सलाह नहीं दी जाती हैं।

Q. क्या गर्भवती महिलाएं पुदीन हरा का सेवन कर सकती हैं ?

A. गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए।

Q. क्या इससे पेट की गैस ठीक होती हैं ?

A. पेट की गैस के लिए पुदीन हरा रामबाण दवा हैं। लेकिन इसके साथ-साथ आपको अपने खाने-पीने की आदतों में भी सुधार करना होगा।

Q. क्या रात के भोजन के बाद इसे ले सकते हैं ?

A. जी हाँ, रात के भोजन के कुछ देर बाद भी आप इसका सेवन कर सकते हैं।  

Q. क्या पुदीन हरा सिरप को नींबू पानी में मिक्स करके पी सकते हैं ?

A. जी नहीं

Q. क्या पुदीन हरा (dabur pudin hara) का सेवन करते रहने से इसकी आदत बन जाती हैं ?

A. जी नहीं, आपको इसकी लत नहीं लगेगी, आप किसी भी समय इसका सेवन बंद कर सकते हैं। ज्यादा लंबे समय तक भी इसका सेवन न करें।

यह आर्टिकल भी पढ़े

Post Tags : pudin hara tablet uses in hindi, पुदीन हरा के फायदे, pudin hara ke fayde, pudin hara ke fayde in hindi, pudin hara khane ke fayde, pudin hara tablet ke fayde in hindi, pudin hara side effects in hindi, pudin hara uses in hindi, pudin hara in hindi 

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

2 thoughts on “पुदीन हरा के फायदे, खुराक और नुकसान | Pudin Hara Ke Fayde Nuksan Uses in Hindi”

Leave a Comment

close button