डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान | Dabur Chyawanprash Ke Fayde Nuksan

Dabur chyawanprash ke fayde | डाबर च्यवनप्राश डाबर कंपनी द्वारा निर्मित एक बेहतरीन आयुर्वेदिक उत्पाद हैं जिसे कई सारी दुर्लभ जड़ी-बूटियों से बनाया जाता हैं। भारत में कई लोग इसका सेवन करते हैं लेकिन कम ही लोगों को डाबर च्यवनप्राश के फायदे नुकसान के बारे में सही जानकारी हैं। डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे (dabur chyawanprash benefits in hindi) की बात करें तो इसके सेवन से सर्दी, खांसी व जुकाम में आराम मिलता हैं, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती, शारीरिक कमजोरी दूर होती हैं और शरीर स्वस्थ रहता हैं। जबकि इसके अधिक सेवन से शरीर को कुछ नुकसान भी हो सकते हैं।

डाबर भारत की एक प्रशिद्ध कंपनी हैं जो अपने आयुर्वेदिक उत्पादों के लिए जानी जाती हैं। डाबर च्यवनप्राश डाबर कंपनी द्वारा निर्मित एक बेहतरीन प्रोडक्ट हैं और लोगों द्वारा भी इसे खूब पसंद किया जाता हैं। डाबर च्यवनप्राश में शामिल अश्वगंधा, अमला, गिलोय, तुलसी, चंदन व ब्राह्मी जैसी जड़ी-बूटियां रोगों से शरीर की रक्षा करने में शक्षम होती हैं और शरीर को एक अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करने में मदद करती हैं। डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash ke fayde) इतने अद्धभुत हैं कि सर्दियों के मौसम में कई डॉक्टरों द्वारा भी इसे लेने की सलाह दी जाती हैं।

इजी लाइफ हिंदी के इस लेख में हम डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे और नुकसान के बारे में बता रहे हैं। साथ ही जनेंगे की डाबर च्यवनप्राश किन चीजों से मिलाकर बनाया जाता हैं (dabur chyawanprash ingredients in hindi) और इसका सेवन किस प्रकार से करना चाहिए। साथ ही अंत में डाबर च्यवनप्राश से जुड़े कुछ आम सवालों के जवाब भी जनेंगे। अगर आप डाबर च्यवनप्राश के बारे में सब कुछ जानने के इछुक हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

डाबर च्यवनप्राश इंग्रेडिएंट्स | Dabur Chyawanprash Ingredients in Hindi

डाबर च्यवनप्राश इम्युनिटी बढ़ाने वाला एक बेहतरीन आयुर्वेदिक उत्पाद हैं। इसके इंग्रेडिएंट (dabur chyawanprash ingredients in hindi) की बात करें तो इसमें 41 से भी ज्यादा आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां शामिल हैं। डाबर च्यवनप्राश में शामिल कुछ मुख्य इंग्रेडिएंट इस प्रकार हैं।

  • आमला
  • गिलोय
  • अश्वगंधा
  • मुलेठी
  • शतावरी
  • पिप्पली
  • शहद
  • काली मिर्च
  • ब्राह्मी
  • गोखरू
  • दालचीनी
  • इलायची
  • बेल
  • तिल का तेल
  • गाय का घी
  • रिद्धि
  • तेजपत्ता
  • हरीतकी
  • दशमूल
  • हरड़
  • घृतकुमारी
  • द्राक्षा

डाबर च्यवनप्राश के इंग्रेडिएंट्स (dabur chyawanprash ingredients in hindi) जानने के बाद अब डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे के बारे में जानते हैं।

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे | Dabur Chyawanprash Ke Fayde | Dabur Chyawanprash Benefits in Hindi

dabur chyawanprash benefits, side effects, price and ingredients

डाबर च्यवनप्राश के फायदे इस प्रकार हैं।

1. इम्युनिटी के लिए डाबर च्यवनप्राश के फायदे

डाबर च्यवनप्राश में शामिल आमला, गिलोय, अश्वगंधा, शतावरी, शहद, ब्राह्मी व दालचीनी आदि जैसी जड़ी-बूटियां शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करती हैं। इसके सेवन से शरीर की इम्युनिटी पावर यानि रोगों से लड़ने की शक्ति मजबूत होती हैं और शरीर स्वस्थ रहता हैं। इम्युनिटी बढ़ाने के लिए च्यवनप्राश इतना ज्यादा कारगर हैं की कोरोना काल में शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए भारत सरकार के आयुश मंत्रालय द्वारा भी च्यवनप्राश खाने की सलाह दी गयी हैं।

2. दिल के स्वास्थ्य के लिए डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे

healthy heart

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे (dabur chyawanprash ingredients in hindi) दिल के स्वास्थ्य के लिए भी अच्छे हैं। नियमित डाबर च्यवनप्राश के सेवन से ह्रदय मजबूत रहता हैं साथ ही यह ह्रदय की धड़कन को भी सही रखता हैं। डाबर च्यवनप्राश बनाने में आमला, गिलोय, अश्वगंधा जैसी जड़ी बूटियों का इस्तेमाल होता हैं जो ह्रदय के स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं।

3. शरीर में ऊर्जा व शक्ति बढ़ाने में सहायक

डाबर च्यवनप्राश के नियमित सेवन से शरीर में एनर्जी का स्तर बढ़ता हैं। जो लोग दिनभर सुस्त रहते हैं या जिनका किसी काम में मन नहीं लगता या थोड़ा कार्य करने पर शरीर जल्दी थक जाता हैं उनके लिए डाबर च्यवनप्राश का सेवन काफी लाभप्रद हो सकता हैं। साथ ही इसके सेवन से शरीर में ताकत आती हैं और कार्यक्षमता में इजाफा होता हैं।

4. पाचन के लिए डाबर च्यवनप्राश के लाभ

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान | Dabur Chyawanprash Ke Fayde Nuksan

डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash ke fayde) पाचन संबंधी परेशानियों के लिए भी अच्छे हैं। इसमें शामिल गिलोय, अमला, ब्राह्मी व अश्वगंधा जैसी जड़ी-बूटियां पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में सहायक होती हैं। जिन लोगों को खाया-पिया हजम नहीं होता या जिनके शरीर में खाया-पिया नहीं लगता उन्हें इसके सेवन से काफी फायदा हो सकता हैं। साथ ही स्वस्थ व फिट रहने के लिए भी पाचन शक्ति का मजबूत रहना बेहद जरूरी होता हैं।

5. खून साफ करने में सहायक

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे (dabur chyawanprash ke fayde in hindi) में रक्त की सफाई भी शामिल हैं। डाबर च्यवनप्राश में शामिल सामग्री रक्त से अवांछित पदार्थों को बाहर करके रक्त को प्यूरीफायर करने का कार्य करते हैं। रक्त की सफाई करना डाबर च्यवनप्राश के कुछ बेहतरीन लाभों में से एक हैं। त्वचा संबंधी समस्याओं में भी इससे फायदा होता हैं।

6. दिमाग के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद

डाबर च्यवनप्राश में अश्वगंधा, शतावरी व ब्राह्मी जैसी जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल किया गया हैं और ये सभी जड़ी बूटियां मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद मानी जाती हैं। इसके सेवन से स्मरण शक्ति मजबूत होती हैं, तनाव कम होता हैं और मन शांत रहता हैं। स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के लिए यह काफी फायदेमंद होता हैं। कई विशेषज्ञों द्वारा भी बच्चों को च्यवनप्राश देने की सलाह दी जाती हैं। बच्चो के मानसिक विकास के लिए यह एक अच्छा आयुर्वेदिक उत्पाद हैं।

7. त्वचा के लिए डाबर च्यवनप्राश के फायदे

skin health

डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash ke fayde in hindi) त्वचा के लिए भी काफी अच्छे हैं। इसके सेवन से रूखी और बेजान त्वचा खिलखिला उठती हैं और चेहरे का ग्लो बढ़ता हैं। साथ ही इसमें एंटी-एजिंग गुण भी मौजूद होते हैं जो त्वचा को लंबे समय तक जवां बनाये रखते हैं। त्वचा संबंधी अनेक परेशानियों में डाबर च्यवनप्राश का सेवन बेहद फायदेमंद हो सकता हैं।

8. सर्दी, खांसी व जुखाम में फायदेमंद

बदलते मौसम के कारण सर्दी, खांसी, जुकाम व गले का दर्द जैसी समस्याएं आम हैं, ऐसे में इन समस्याओं से बचने के लिए भी डाबर च्यवनप्राश के फायदे अच्छे हैं। इसमें ज्यादातर ऐसी जड़ी-बूटियां शामिल हैं जो शरीर को अंदर से गर्म रखने में मदद करती हैं, इसलिए इसके सेवन से सर्दी के कारण होने वाली खांसी, जुकाम व नाक से पानी आने की समस्या में राहत मिलती हैं। साथ ही इसके सेवन से इम्युनिटी भी मजबूत होती हैं।

9. सर्दियों में शरीर को अंदर से गर्म रखने में सहायक

डाबर च्यवनप्राश खाने का लाभ (dabur chyawanprash benefits in hindi) सबसे ज्यादा सर्दियों में मिलता हैं। इसमें शामिल अश्वगंधा, काली मिर्च व शहद जैसे तत्व शरीर को अंदरूनी गर्माहट प्रदान करके शरीर की ठंड से रक्षा करने में मददगार होते हैं। सर्दियों के मौसम में इसका इस्तेमाल इसलिए भी जरूरी होता हैं क्योंकि इस मौसम में शरीर जल्दी बीमार पड़ता हैं। सर्दी, खांसी, जुकाम, गले का दर्द, नाक से पानी आना, त्वचा का रूखा होना, शरीर में आलस का बढ़ना व जोड़ो में दर्द होना जैसी कुछ आम समस्याएं सबसे ज्यादा सर्दियों के मौसम में ही पनपती हैं। ऐसे में डाबर च्यवनप्राश के इस्तेमाल से आप इन समस्याओं से दूर रह सकते हैं। 

10. कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में सहायक

डाबर च्यवनप्राश के सेवन से कोलेस्ट्रॉल पर भी कुछ हद तक नियंत्रण पाया जा सकता हैं। इसमें शामिल जड़ी बूटियां कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में सहायक होती हैं। इसके सेवन से रक्त की सफाई होती हैं, मोटापा नियंत्रित रहता हैं, ह्रदय स्वस्थ रहता हैं और शरीर से अवांछित पदार्थों की भी सफाई होती हैं और ये सब चीजें कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित रखने में मददगार हो सकती हैं।

11. यौन शक्ति बढ़ाने में सहायक

डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash khane ke fayde) यौन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भी अच्छे हैं। डाबर च्यवनप्राश में शामिल अश्वगंधा, शतावरी, गोखरू जैसी कुछ जड़ी बूटियां यौन समश्याओं के लिए बेहद फायदेमंद होती हैं और इसके नियमित सेवन से लो स्पर्म काउन्ट व शीघ्रपतन जैसी समस्याओं में फायदा हो सकता हैं साथ ही महिलाओं की आम समस्याओं के लिए भी इसका सेवन काफी फायदेमंद होता हैं।

12. हड्डियों के लिए डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे  

strong muscles and bones

डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash khane ke fayde) हड्डियों के लिए भी अच्छे हैं और इसके नियमित सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं और जोड़ों के दर्द में काफी हद तक राहत मिलती हैं। हड्डियों की मजबूती प्रदान करने के लिए इसका सेवन दूध के साथ करना बेहतर माना जाता हैं। एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच डाबर च्यवनप्राश मिक्स करके इसका सेवन किया जा सकता हैं। दूध से शरीर को अच्छी मात्रा में कैल्सियम व प्रोटीन प्राप्त होगा जो हड्डियों के लिए जरूरी पोषक तत्व हैं।

13. भूख बढ़ाने, वजन बढ़ाने में सहायक

जिन लोगों को भूख कम लगती हैं, कुछ खाने का मन नहीं करता, शरीर बहुत ज्यादा दुबला पतला हैं या फिर शरीर में खाया पिया सही से नहीं लगता उनके लिए भी डाबर च्यवनप्राश फायदेमंद हो सकता हैं। इसके सेवन से भूख खुलती हैं, शरीर में खाया-पिया अच्छे से लगता हैं और शरीर की कमजोरी दूर होती हैं। अगर एक सही डाइट व थोड़ी बहुत एक्सरसाइज के साथ इसका सेवन किया जाए तो यह वजन बढ़ाने में भी काफी सहायक हो सकता हैं।

14. बालों के लिए डाबर च्यवनप्राश के लाभ

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान | Dabur Chyawanprash Ke Fayde Nuksan

डाबर च्यवनप्राश के फायदे (dabur chyawanprash benefits in hindi) बालों के लिए भी अच्छे हैं इसके सेवन से बालों को पोषण मिलता हैं और बाल काले, लंबे व घने रहते हैं। दरअसल इसमें आमला अच्छी मात्रा में मौजद होता हैं जो बालों के लिए सबसे ज्यादा लाभकारी माना जाता हैं। साथ ही इसमें शामिल अन्य जड़ी-बूटियां भी स्किन व बालों के लिए काफी फायदेमंद होती हैं और इसके सेवन से रक्त भी साफ होता हैं जिसका लाभ भी स्किन व बालों को मिलता हैं।

15. अनिद्रा दूर होती हैं

अनिद्रा यानि नींद न आने की समस्या, आज की तारीख में एक आम समस्या हैं और ज्यादातर युवा पीढ़ी इसके शिकार हैं। अनिद्रा मानसिक रोगों की जननी हैं इसलिए इस पर काबू करना बेहद जरूरी हो जाता हैं। अनिद्रा की समस्या से जूझ रहे लोगों के लिए डाबर च्यवनप्राश काफी हद तक फायदेमंद हो सकता हैं। इसमें अश्वगंधा, शतावरी, शहद, ब्राह्मी, मुलेठी व पीपली के गुण शामिल हैं जो बेहतर नींद के लिए अच्छे माने जाते हैं। साथ ही इसके सेवन से शरीर की थकान दूर होती हैं और मन शांत रहता हैं जिस कारण भी अच्छी नींद आने में मदद मिलती हैं। 

16. श्वसन संबंधी समस्याओं में डाबर च्यवनप्राश खाने का फायदे

श्वसन यानि सांस लेने से संबंधी समस्याओं में भी अक्सर डाबर च्यवनप्राश खाने की सलाह दी जाती हैं। डाबर च्यवनप्राश में शामिल पिप्पली श्वसन संक्रमण से बचाने में मददगार होती हैं। साथ ही ध्यान रहे की श्वसन संबंधी समस्याओं के लिए डाबर च्यवनप्राश का सेवन दूध की जगह गुनगुने पानी के साथ करना चाहिए।

डाबर च्यवनप्राश खाने का तरीका | Dabur Chyawanprash Khane Ka Tarika

डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे के बारे में जानने के बाद अब इसके सेवन का तरीका भी जान लेते हैं। कुछ लोगों को इसके सेवन को लेकर बहुत ज्यादा उलझन रहती हैं और उन्हें इसके सेवन का सही तरीका पता नहीं होता हैं। एक चम्मच डाबर च्यवनप्राश का सेवन आप सुबह-शाम कर सकते हैं। आप इसे सीधा खा सकते हैं या फिर इसे गुनगुने दूध या पानी के साथ मिक्स करके भी ले सकते हैं। एक चम्मच से ज्यादा इसका सेवन न करें।

3 साल से छोटे बच्चों को इसके सेवन की सलाह नहीं दी जाती जबकि 3-5 साल के बच्चों को डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन कराएं। ज्यादा जानकारी के लिए इसके डब्बे में लिखे दिशा-निर्देश भी अवश्य पढ़ लें।  

डाबर च्यवनप्राश के नुकसान | Dabur Chyawanprash Side Effects In Hindi

डाबर च्यवनप्राश के कुछ खास साइड इफ़ेक्ट (dabur chyawanprash ke nuksan) नहीं हैं लेकिन इसके सेवन से पहले आपको कुछ बातों का भी अवश्य ध्यान रखना चाहिए।

  • मधुमेह के रोगियों को डाबर शुगर फ्री च्यवनप्राश का ही इस्तेमाल करना चाहिए।
  • मोटापे से जूझ रहे लोगों को भी शुगर फ्री डाबर च्यवनप्राश का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर की सलाह के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए।
  • 3 साल से छोटे बच्चों को इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  • उल्टी, पेट दर्द व दस्त में डाबर च्यवनप्राश का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • एक बार में एक चम्मच से ज्यादा इसका सेवन न करें।
  • इसके ज्यादा सेवन से पेट से जुड़ी कई प्रकार की समस्याएं हो सकती हैं।
  • अगर आपको दूध पसंद नहीं हैं तो आप गुनगुने पानी के साथ भी इसका सेवन कर सकते हैं।

डाबर च्यवनप्राश खाने का समय | Dabur Chyawanprash Khane Ka Sahi Samay

डाबर च्यवनप्राश का सेवन आप सुबह नाश्ते में कर सकते हैं। सुबह नाश्ते में एक गिलास गुनगुने दूध के साथ इसे ले सकते हैं। साथ ही इसका सेवन आप शाम के समय भी कर सकते हैं। ध्यान रहे की एक दिन में दो बार से ज्यादा इसका सेवन न करें।

डाबर च्यवनप्राश की कीमत | Dabur Chyawanprash Price In Hindi

डाबर च्यवनप्राश के फायदे जानने के बाद कहा जा सकता हैं की इसकी कीमत काफी ज्यादा किफायती हैं। 1 kg डाबर च्यवनप्राश की कीमत मात्र 320 रुपए के आसपास हैं। आप इसे अपने नजदीकी किसी भी दुकान से ले सकते हैं या फिर आप इसे ऑनलाइन amazon से भी ले सकते हैं। ऑनलाइन आपको इस पर अच्छा खासा डिस्काउंट भी मिल जाएगा।

निष्कर्ष

डाबर च्यवनप्राश एक बेहतरीन आयुर्वेदिक उत्पाद हैं। इसके सेवन से आप अपना और अपने परिवार के सदस्यों की सेहत का ख्याल रख सकते हैं और रोगों से दूर रह सकते हैं। उम्मीद हैं कि आपको इजी लाइफ हिंदी का यह लेख पसंद आया होगा। इस लेख में हमने डाबर च्यवनप्राश के फायदे, डाबर च्यवनप्राश के नुकसन, डाबर च्यवनप्राश की कीमत और डाबर च्यवनप्राश के सेवन का तरीका के बारे में जाना। अगर डाबर च्यवनप्राश से संबंधी आपके मन में कोई सवाल हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स पर पूछ सकते हैं। साथ ही आप इस लेख को अन्य लोगों के साथ शेयर भी कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q. डाबर च्यवनप्राश का सेवन कैसे करें?
A. डाबर च्यवनप्राश का सेवन गुनगुने दूध या फिर गुनगुने पानी के साथ कर सकते हैं, साथ ही आप इसका सीधा सेवन भी कर सकते हैं।

Q. डाबर च्यवनप्राश किस समय खाना चाहिए?
A. डाबर च्यवनप्राश आप सुबह नाश्ते में दूध के साथ ले सकते हैं या फिर शाम के भोजन से एक घंटे पहले या भोजन के एक से दो घंटे बाद भी इसका सेवन कर सकते हैं।

Q. क्या डाबर च्यवनप्राश से मोटापा बढ़ता हैं?
A.जी नहीं डाबर च्यवनप्राश से मोटापा नहीं बढ़ता, लेकिन इसमे चीनी का भी इस्तेमाल किया गया हैं जो आपकी चिंता को थोड़ा बहुत बढ़ा सकता हैं। इसलिए मोटापे से जूझ रहे व्यक्तियों को शुगर फ्री च्यवनप्राश खाने की सलाह दी जाती हैं। आप डाबर का शुगर फ्री च्यवनप्राश ले सकते हैं।

Q. डाबर च्यवनप्राश को ठंडा या गर्म दूध, किस के साथ लें?
A. डाबर च्यवनप्राश का सेवन गुनगुने दूध के साथ कर सकते हैं।

Q. क्या डाबर च्यवनप्राश को रात के समय ले सकते हैं?
A. जी हां आप इसे रात के भोजन के कुछ देर बाद भी ले सकते हैं, लेकिन च्यवनप्राश खाने का सबसे सही समय सुबह का समय हैं। सुबह च्यवनप्राश खाने से पूरा दिन शरीर एनर्जी से भरा रहता हैं।

Q. डाबर च्यवनप्राश की तासीर कैसी होती हैं?
A. च्यवनप्राश की तासीर गर्म होती हैं।

Q. क्या गर्मी के मौसम में इसका सेवन कर सकते हैं?
A. जरूरत पड़ने पर आप इसका सेवन गर्मियों के मौसम में भी कर सकते हैं। इसके सेवन के साथ-साथ आपको दिनभर खूब पानी पीना होगा। साथ ही अगर आप गर्मी में इसका सेवन करते हैं तो फिर आपको अन्य गर्म तासीर की चीजों का सेवन कम करना होगा।

Q. डाबर च्यवनप्राश किन चीजों से बना हैं?
A. जैसा कि ऊपर बताया गया हैं कि डाबर च्यवनप्राश 41 से ज्यादा जड़ी-बूटियों से बना हैं। जिसमें आमला, गिलोय, अश्वगंधा, शतावरी, काली मिर्च आदि शामिल हैं।

Q. क्या डाबर च्यवनप्राश खाने के तुरंत बाद पानी पी सकते हैं?
A. हल्का गुनगुना पानी पी सकते हैं।

इस आर्टिकल को शेयर करें

आपके लिए कुछ अन्य उपयोगी आर्टिकल

दिव्य मेदोहर वटी के 10 बेहतरीन फायदे, उपयोग और नुकसान

डाबर हनी के 8 अध्भुत फायदे व सेवन का सही तरीका

बॉर्नविटा पीने के 10 जबरदस्त फायदे, नुकसान और उपयोग

पतंजलि ओट्स के 10 बड़े फायदे, उपयोग और बनाने की विधि

पतंजलि बादाम रोगन तेल के फायदे, नुकसान व उपयोग

डाबर लाल दंत मंजन के फायदे व नुकसान

नवरत्न तेल के फायदे, नुकसन व उपयोग

अस्वीकरण : सलाह सहित यह लेख केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। साथ ही किसी भी उत्पाद का इस्तेमाल करने से पहले उसमें लिखे दिशा-निर्देश भी अवश्य पढ़ लें।

Post Tags : डाबर च्यवनप्राश के फायदे, डाबर च्यवनप्राश की कीमत, डाबर च्यवनप्राश खाने का समय, डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे और नुकसान, डाबर च्यवनप्राश खाने का तरीका, डाबर च्यवनप्राश के नुकसान

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

2 thoughts on “डाबर च्यवनप्राश खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान | Dabur Chyawanprash Ke Fayde Nuksan”

  1. च्यवनप्राश में आंवला मुख्य घटक हैं।आंवला और दूध क्या एक साथ लिए जा सकते है।

    Reply
    • दूध के साथ कोई भी खट्टी चीज या खट्टा फल नहीं लेना चाहिए, जिसमे आंवला भी शामिल है। लेकिन च्यवनप्राश में आंवला के साथ बहुत से आयुर्वेदिक घटक भी ब्लेंड होते हैं जिस कारण इसे दूध के साथ लिया जा सकता है। कंपनी भी इसे गुनगुने दूध के साथ लेने की सलाह देती है। अगर आप इसे दूध के साथ नहीं लेना चाहते तो फिर आप इसे गुनगुने पानी के साथ भी ले सकते हैं या फिर डायरेक्ट भी इसका सेवन कर सकते हैं।

      Reply

Leave a Comment

close button