Weight Gain Diet Chart in Hindi | वजन बढ़ाने के लिए पूरे दिन का डाइट चार्ट

Weight gain diet chart in hindi : आज के समय में लोग मोटापे से ही परेशान नहीं है, कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनकी परेशानी का कारण वजन न बढ़ना है। ज्यादा दुबला-पतला शरीर दिखने में अच्छा नहीं लगता, साथ ही दुबलेपन के कारण शरीर मे बीमारियां भी जल्दी प्रवेश करती हैं।

दुबलेपन के कारण समाज में कुछ लोगों का मजाक भी बनाया जाता है, जिस वजह से दुबले-पतले लोगों को कई बार शर्मान्दगी का भी सामना करना पड़ता है, साथ ही दुबले शरीर के कारण लोगों का आत्मविश्वास भी कमजोर पड़ने लगता है।

इजी लाइफ हिंदी के इस आर्टिकल में हम आपको मोटा होने के लिए डाइट चार्ट या वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) बता रहे हैं, जिसकी मदद से कोई भी दुबला-पतला इंसान आसानी से वजन बढ़ा सकता हैं। इस डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) में शामिल सभी चीजें लड़के और लड़कियों के लिए समान है, अपनी जरूरत के हिसाब से वे इन चीजों का सेवन कर सकते हैं।

मोटा होने के लिए डाइट चार्ट (Mota Hone Ke Liye Diet Chart) – Weight Gain Diet Chart in Hindi

Weight Gain Diet Chart in Hindi

वजन बढ़ाने के लिए खानपान सबसे ज्यादा जरूरी होता है, बिना खानपान पर ध्यान दिए आप वजन नहीं बढ़ा सकते। कुछ लोगों का सवाल होता है कि वजन बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए और कितना खाना चाहिए।

वजन बढ़ाने के लिए क्या खाना चाहिए इसके बारे में हम मोटा होने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) में आगे बात करेंगे। पहले जान लेते है कि भोजन से एक दिन में कितनी कैलोरी लेनी चाहिए, यानी एक दिन में कितना भोजन करना चाहिए।

यह भी जरूर पढ़े – पिचके गाल मोटा करने के तरीके

कैलोरी क्या है ?

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) के विषय मे जानने से पहले आपको कैलोरी के विषय में भी पूरी जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि वजन बढ़ाने और घटाने का सीधा संबंध कैलोरी से ही होता है।

कैलोरी भोजन से प्राप्त ऊर्जा मापने की इकाई है। हम जो कुछ भी खाते हैं, उन सभी चीजों में कैलोरी होती है और इसका मुख्य कार्य शरीर को एनर्जी प्रदान करना है। जब हम कोई शारीरिक कार्य करते हैं तब यह कैलोरी ऊर्जा के रूप में खर्च होती है।

वजन बढ़ाने के लिये कैलोरी सरप्लस में जाने की जरूरत होती है, कैलोरी सरप्लस में अपनी दैनिक कैलोरी से अधिक कैलोरी लेनी होती है। यदि आप एक दिन में 1800 कैलोरी लेते हैं, तो आपको वजन बढ़ाने के लिए 1800 से ज्यादा कैलोरी लेनी चाहिए।

प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट (वसा) शरीर मे एनर्जी के मुख्य स्रोत होते हैं और इन्ही से शरीर को कैलोरी प्राप्त होती है। एक ग्राम प्रोटीन में 4 कैलोरी, एक ग्राम कार्बोहाइड्रेट में भी 4 कैलोरी और एक ग्राम फैट में 9 कैलोरी होती है। वजन बढ़ाने के लिए आपको इन तीनों पोषक तत्वों की आवश्यकता पड़ेगी।

वजन बढ़ाने के लिए कितनी कैलोरी लेनी चाहिए

एक दिन में कितनी कैलोरी लेनी चाहिए यह आपके शारिरिक कार्य, लिंग, उम्र, लंबाई, और वजन पर निर्भर करता है। सभी लोगों के लिए इसका मापदंड अलग-अलग हो सकता है। सामान्यतः औसत भार वाली महिलाओं को एक दिन में लगभग 2000 कैलोरी लेने की सलाह दी जाती है। वहीं औसत भार वाले पुरषों को एक दिन में  लगभग 2500 कैलोरी लेने की सलाह दी जाती है।

एक दिन में कितनी कैलोरी लेनी चाहिए इसका पता आप कुछ ऑनलाइन टूल की मदद से भी कर सकते हैं। calculator.net एक ऐसा ही टूल हैं जो काफी हद तक आपकी मदद कर सकता है। आप इस टूल की मदद से जरूरी कैलोरी का पता लगा सकते हैं।

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट – Diet Chart for Weight Gain in Hindi

Diet Chart for Weight Gain in Hindi

वजन बढ़ाने के लिए डाइट प्लान (vajan badhane ke liye diet chart ) में हम सुबह उठने से लेकर रात को सोने से पहले तक कि डाइट के बारे में जनेंगे।

वजन बढ़ाने के लिए डाइट प्लान में पहली मील – सुबह उठने के बाद

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet plan in hindi) में सुबह उठने के बाद सबसे पहले दो गिलास पानी पिएं और फिर फ्रेश होने के बाद भिगोए चने, भिगोए बादाम व किशमिश का सेवन करें। इन सभी चीजों को एक रात पहले अलग-अलग भिगोकर रख दें। इसमें आप मूंग दाल या कच्ची मूंगफली भी शामिल कर सकते हैं। यह सभी चीजें वजन बढ़ाने में लाभप्रद होती हैं।

क्या नहीं करना

सुबह उठने के बाद कुछ लोग सबसे पहले चाय या कॉफी पीते हैं, आपको ऐसा नहीं करना हैं। सुबह खाली पेट चाय या कॉफी का सेवन बिलकुल भी न करें।  

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट में दूसरी मील – सुबह का नाश्ता

oats

पहली मील के एक से डेढ़ घंटे बाद आपको एक हेल्दी नाश्ता करना हैं। सुबह का नाश्ता दिन का सबसे अहम भोजन होता हैं, इसलिए इसे कभी मिस न करें। आपके नाश्ते में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन शामिल होना चाहिए। साथ ही इसमें थोड़ा बहुत फैट यानी वसा भी शामिल होना चाहिए। सुबह के नाश्ते में आप इनमें से किसी भी चीज का सेवन कर सकते हैं और रोज अलग-अलग प्रकार का नाश्ता करें।

1. एक कटोरी दूध में बनाये हुए ओट्स। इसमें आधा केला, थोड़े बहुत अलसी के बीज, कुछ ड्राई फ्रूट्स और आधा चम्मच पीनट बटर भी मिक्स करें।

2. अगर ओट्स पसंद नहीं हैं तो इसकी जगह आप दलिया इस्तेमाल कर सकते हैं। दलिया में भी आप ड्राई फ्रूट्स, अलसी बीज और पीनट बटर का इस्तेमाल अवश्य करें।

3. मक्खन में बनी दो अंडों की भुर्जी, दो ब्राउन ब्रेड के साथ। (शाकाहारी लोग अंडे की जगह पनीर भुर्जी का सेवन कर सकते हैं)

4. आप चाहे तो मक्खन में बना अंडा या पनीर का परांठा भी ले सकते हैं। (अंडा और पनीर दोनों ही प्रोटीन के बेस्ट सोर्स हैं)

5. कभी कभार इटली, सांभर, डोसा, उपमा, पोहा, ब्राउन पास्ता आदि भी ले सकते हैं।

6. आप चाहे तो नास्ते में नार्मल रोटी और सब्जी का सेवन भी कर सकते हैं। साथ ही प्रोटीन के लिए पनीर या अंडा भी ले सकते हैं।  

क्या नहीं खाना 

सुबह के नाश्ते में बहुत ज्यादा ऑयली फूड से दूर रहे। समोसा, पूरी, छोला-भटूरा व नमकीन जैसी चीजों का सेवन न करें।    

मोटा होने के लिए डाइट चार्ट में तीसरी मील – नास्ते के 3-4 घंटे बाद

weight gain diet plan hindi

मोटा होने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) में आगे आपको नाश्ते के 3 से 4 घंटे के बाद एक छोटी मील लेनी हैं और इसमें आप कोई सा भी एक मौसमी फल लें सकते हैं। आप केला, सेब, अनार, अमरूद, पपीता या फिर चीकू का सेवन कर सकते हैं। इसके साथ ही आप इन चीजों का भी सेवन कर सकते हैं।

  • फलों का रस
  • बनाना या मैंगो शेक
  • एक गिलास गाय का दूध
  • लस्सी
  • सलाद
  • भुने चने

नोट : समय-समय पर भोजन में बदलाव करते रहें। किसी दिन फल खा लें, किसी दिन फलों का रस पी लें या फिर किसी दिन लस्सी पी लें।

वेट गेन के लिए डाइट चार्ट में चौथी मील – दिन का भोजन

Indian weight gain food chart hindi

वजन बढ़ाने का डाइट चार्ट के अनुसार तीसरी मील के डेढ़ से दो घंटे बाद आपको दिन का भोजन करना हैं और यह आपकी चौथी मील होगी। दिन के भोजन में आप इनमें से कुछ भी शामिल कर सकते हैं –

  • दाल, चावल, सब्जी व सलाद
  • रोटी, दाल, सब्जी, सलाद
  • लस्सी या दही

नोट : दिन के भोजन में आप अंडा, मछली व चिकन का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। साथ ही सब्जी व दाल रोज बदल-बदल कर खाएं। मूंग दाल, राजमा, काबुली चना, काला चना व मसूर की दाल का अधिक सेवन करें।

मोटा होने के डाइट चार्ट में पांचवी मील –  शाम का नाश्ता

दोपहर के भोजन के बाद वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) में अगला नंबर शाम के नाश्ते का हैं। कुछ लोगों को अक्सर शाम के समय तेज भूख लगती हैं और वह उस समय नमकीन, बिस्किट, समोसा व पकोड़े जैसे कुछ भी अनहेल्दी फूड खा लेते हैं और यह सोचते हैं की इनसे उनका वजन बढ़ेगा। वजन बढ़ाने के लिए आपको इन अनहेल्दी फूड्स से दूर  रहना होगा। ये फूड केवल शरीर में मोटापा बढ़ाने का काम करते हैं, इनसे शरीर को ताकत और एनर्जी नहीं मिलती।

शाम के नास्ते में आपको कुछ ऐसी चीजें लेनी चाहिए जो पौष्टिक भी हो और भूख पर भी काबू भी सके। इसके लिए आप अंडा, भुने हुए चने, फल, सैंडविच, ड्राई फ्रूट्स या फिर ब्राउन ब्रेड में पीनट बटर लगाकर खा सकते हैं। 

वजन बढ़ाने का डाइट प्लान में छठी मील – रात का भोजन

eggs

वजन बढ़ाने के डाइट प्लान (weight gain diet chart in hindi) में रात का भोजन भी अहम होता हैं। रात का भोजन समय से करें, कोशिश करें की सोने से कम से कम 2 घंटे पहले भोजन कर लें। रात के भोजन में आप ये सब चीजें शामिल कर सकते हैं।

  • दाल
  • रोटी
  • सलाद
  • अंडे का सफेद भाग
  • पनीर की सब्जी
  • मछली 

वजन बढ़ाने के लिए डाइट प्लान में सातवीं मील – सोने से पहले

रात के भोजन के एक से डेढ़ घंटे बाद और सोने से पहले आपको एक गिलास दूध अवश्य पीना हैं। रात को दूध पीने से शरीर की थकान दूर होती हैं और नींद अच्छी आती हैं, अच्छी नींद वजन बढ़ाने में काफी सहायक होती हैं। साथ ही दूध में मौजूद कैल्शियम और प्रोटीन भी शारीरिक वृद्धि के लिए काफी सहायक होते हैं।

नोट : डॉक्टर की सलाह से आप दूध में अश्वगंधा व सतावर जैसे आयुर्वेदिक हर्ब्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। वजन बढ़ाने में यह काफी सहायक होते हैं। (दूध पीने का सही समय क्या हैं)

वजन बढ़ाने के लिए टिप्स – Vajan Badhane Ke Liye Tips

weight gain tips

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) के विषय मे जानने के बाद आपको कुछ अन्य चीजों का भी ध्यान रखना चाहिए। वजन बढ़ाने के लिए हम नीचे कुछ टिप्स बता रहे हैं, इन्हें भी अवश्य फॉलो करें।

1. संतुलित आहार लें

वजन बढ़ाने के लिए संतुलित आहार सबसे ज्यादा जरूरी होता हैं। संतुलित आहार का मतलब हैं कि आपके भोजन से सभी जरूरी पोषक तत्व शामिल होने चाहिए। भोजन में प्रोटीन, कार्बोहायड्रेट व वसा के साथ साथ विटामिन व मिनरल भी शामिल होने चाहिए।

प्रोटीनवजन बढ़ाने और बॉडी बनाने के लिए प्रोटीन सबसे ज्यादा जरूरी होता हैं। प्रोटीन के लिए आप अंडा, मांस, मछली, दूध, पनीर, छाछ, दाल, अंकुरित अनाज, बादाम, पीनट बटर आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं।

आपकी तीन टाइम की मील सुबह के नाश्ते, दिन के भोजन व रात के भोजन में प्रोटीन अवश्य होना चाहिए। उपर बताए गए वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) में भी हमनें आपको इन मील्स के लिए प्रोटीन फूड्स बताए हैं। (भारत में प्रोटीन के 25 बेस्ट सोर्स)

कार्बोहाइड्रेटकार्बोहायड्रेट का मुख्य कार्य शरीर को एनर्जी प्रदान करना हैं, साथ ही वजन बढ़ाने में भी ये सहायक होते हैं। वजन बढ़ाने के लिए आपको कॉम्प्लेक्स कार्बोहाइड्रेट की आवश्यकता पड़ेगी। ब्राउन ब्रेड, ब्राउन राइस, ब्राउन पास्ता, केला, आलू, आटे की रोटी, ओटस, दलिया, फल व सब्जियों में कार्बोहाइड्रेट अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं।

कार्बोहायड्रेट का सेवन सुबह और दिन के भोजन में  ज्यादा करें, जबकि रात के भोजन में कार्बोहाइड्रेट कम ही ले तो बेहतर होगा। मोटा होने के लिए डाइट चार्ट (mota hone ke liye diet chart) में भी हमनें कार्बोहाइड्रेट को सुबह और दिन के भोजन में ज्यादा रखा हैं और रात के भोजन में कम।

फैट्स –  फैट्स यानी वसा भी शरीर को एनर्जी प्रदान करने और वजन बढ़ाने में उपयोगी होते हैं। बहुत से लोग वसा को अनदेखा करते हैं, जो सही नहीं हैं।  वसा के लिए आप बादाम, अखरोट, मूंगफली, जैतून का तेल, नारियल का तेल, सूरजमुखी के बीज व तेल, घी व मक्खन का सेवन कर सकते हैं। सभी प्रकार के ड्राई फ्रूट्स में वसा अच्छी मात्रा में होती हैं।

फाइबरवजन बढ़ाने का डाइट चार्ट (vajan badhane ke liye diet chart) में हमनें आपको जो भी चीजें बताई हैं, उन्हें सही से पचाने के लिए आपको फाइबर की जरूरत पड़ेगी। फाइबर भोजन को पचाने और आंतों की सफाई के लिए बेहद जरूरी होता हैं। इसलिए भोजन में फाइबर को अनदेखा न करें। फाइबर फल, दाल, सूखे मेवों और सब्जियों में भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं।

फाइबर लेने का सबसे अच्छा तरीका हैं कि फल व सब्जियों को अच्छी तरह धोकर बिना छीलें ही खाएं, सब्जियों को कम पकाएं, एक फल रोज खाएं और भोजन में सालद अवश्य शामिल करें।

2. पाचन-तंत्र मजबूत रखें

मोटा होने और सेहत बनाने के लिए पाचन तंत्र का मजबूत होना बेहद जरूरी होता हैं। अगर पाचन तंत्र की सही नहीं होगा तो आप वजन बढ़ाने के लिए कुछ भी खा लें, उसका असर शरीर में दिखने को नहीं मिलेगा। इसलिए वजन बढ़ाने के लिए पाचन तंत्र का मजबूत होना जरूरी होता हैं, जिससे खाया पिया शरीर में लग सके।

पाचन तंत्र को कजबूत बनाने के लिए इन चीजों का ध्यान रखें।

  • भोजन समय से करें, भोजन करने का एक समय रखे।
  • भोजन अच्छी तरह चबाकर खाएं, भोजन करने में कोई जल्दबाजी न करें।
  • भोजन के बीच मे और भोजन के तुरंत बाद अधिक पानी न पिएं
  • दिनभर में 3 से 4 लीटर पानी अवश्य पिएं
  • नियमित योग व एक्सरसाइज करें
  • फास्ट फूड और ऑयली फूड से दूर रहे
  • एक बारी में बहुत ज्यादा भोजन न करें
  • भोजन में फाइबर की मात्रा बढ़ाये

3. वजन बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करें

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) के साथ साथ एक्सरसाइज भी बेहद जरूरी होती हैं। एक्सरसाइज करने से पाचन तंत्र मजबूत रहता हैं, भूख खुलकर लगती हैं, खाया पिया शरीर मे लगने लगता हैं और मसल मजबूत होती हैं। एक्सरसाइज करने से मांसपेसियों पर दबाव पड़ता हैं, वे टूटती हैं और एक अच्छे भोजन की मदद से तेजी से ग्रो करती हैं।

एक्सरसाइज करने के लिए आप जिम जॉइन कर सकते हैं या फिर घर पर भी एक्सरसाइज कर सकते हैं। पुश-अप, पुल-अप, बाइसेप्स कर्ल, बाइसेप्स डंबल कर्ल, हेमर डंबल कर्ल, डंबल प्रेस, बार्बेल बेंच प्रेस, मिलिट्री प्रेस, बारबेल प्रेस, फ्रंट डंबल रेज, स्क्वाट्स, लंजेस व लेग प्रेस कुछ आम एक्सरसाइज हैं जिन्हें आप आसानी से कर सकते हैं।

यह भी जरूर पढ़े – मोटा होने का तरीका और घरेलू उपाय

4. दिनभर खूब पानी पिएं

वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) में बताई गई चीजों के साथ-साथ दिनभर पर्याप्त पानी भी अवश्य पिएं। पानी पीने से पाचन तंत्र हेल्दी रहता हैं और शरीर से अवांछित पदार्थ भी बाहर निकलते हैं। दिनभर में 3 से 4 लीटर पानी अवश्य पियें।

5. तनाव से दूर रहे

अगर आप वजन बढ़ाना चाहते हैं तो आपको तनाव व चिंता से भी दूर रहना होगा। दरअसल तनाव का सीधा असर सेहत पर दिखाई देता हैं, मन एकाग्र नहीं रहता और साथ ही भोजन में भी मन लगता। जिस कारण सेहत खराब होने लगती हैं और वजन तेजी से कम होने लगता हैं। इसलिए तनाव से दूर रहे और खुश रहने की कोशिश करें।

6. वजन बढ़ाने वाले आयुर्वेदिक हर्ब्स का इस्तेमाल करें

वजन बढ़ाने के लिए किसी प्रकार की दवा, कैप्सूल या चूर्ण का इस्तेमाल न करें, इनकी जगह आप नेचुरल आयुर्वेदिक हर्ब्स जैसे अश्वगंधा, सतावर, यष्टिमधु, च्यवनप्राश आदि का सेवन कर सकते हैं। ये सभी चीजें शारिरिक कमजोरी दूर करने और वजन बढ़ाने में सहायक होते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि इनका इस्तेमाल आप डॉक्टर की सलाह से ही करें।

आयुर्वेदिक हर्ब्स वजन बढ़ाने में कैसे सहायक हैं

1. अश्वगंधा शरीर की कमजोरी दूर करने, शरीर की ताकत और ऊर्जा देने, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, पाचन शक्ति को मजबूत बनाने, तनाव दूर करने और अनिद्रा दूर करने में सहायक होता हैं।

2. शतावरी चूर्ण वजन बढ़ाने के लिए एक अन्य लाभकारी आयुर्वेदिक दवा हैं। यह पाचन शक्ति को मजबूत करने, भूख बढ़ाने, शरीर में ऊर्जा बढ़ाने और शरीर के अविकसित अंगों को विकसित करने में लाभप्रद होता हैं। यह उन महिलाओं के लिए भी बेहद फायदेमंद हैं जिनके शरीर के अंग सही से विकसित नहीं हो पा रहे हैं।

3. यष्टिमधु और च्यवनप्राश भी शरीर की इम्युनिटी बढ़ाने, कमजोरी दूर करने, भूख बढ़ाने और पाचन को दुरूस्त करने में फायदेमंद होते हैं। 

अगर आप वजन बढ़ाने के लिए डाइट प्लान (weight gain diet plan in hindi) के साथ इन आयुर्वेदिक हर्ब्स का भी इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो इसके लिए एक बार डॉक्टर से सलाह भी अवश्य लें।

यह भी पढ़े – मोटा होने के लिए बेस्ट आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स

7. वजन बढ़ाने के लिए योग का सहारा लें

वजन कम करने के साथ-साथ योग वजन बढ़ाने में भी काफी सहायक होता हैं। योग के जरिये आप अपने पाचन तंत्र और मांसपेसियों को मजबूत बना सकते हैं। साथ ही योग तनाव कम करने में भी सहायक होता हैं। वेट गेन के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) के साथ अगर आप एक्सरसाइज और योग को अपने रूटीन में शामिल करते हैं, तो आपको दोगुने तेजी से इसका रिजल्ट मिल सकता हैं। वजन बढ़ाने के लिए  योग में आप इन सबको शामिल कर सकते हैं।

8. फास्ट फूड खाने की गलती न करें

कई लोग यह सोचकर कुछ भी खा लेते हैं की इससे उनका वजन बढ़ेगा और ऐसे में वे फास्ट फूड व ऑयली फूड जैसी अनहेल्दी चीजों का सेवन करने से नहीं कतराते। आपको ऐसा नहीं करना हैं और फास्ट फूड व ऑयली फूड से दूर ही रहना हैं। इनके सेवन से शरीर को यह नुकसान हो सकते हैं।

  • फास्ट फूड के अधिक सेवन से पाचन तंत्र कमजोर पढ़ सकता हैं
  • फास्ट फूड में पोषक तत्वों की कमी होती हैं, इनमें बहुत कम मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं 
  • फाइबर की कमी के कारण फास्ट फूड के सेवन से पेट संबंधी परेशानियां हो सकती हैं 
  • फास्ट फूड के सेवन से शरीर में आलस बढ़ सकता हैं
  • फास्ट फूड के अधिक सेवन से पेट निकलने की समस्या भी हो सकती हैं

9. पर्याप्त नींद लें 

वजन बढ़ाने के लिए अच्छी  नींद भी जरूरी होती हैं। मोटा होने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet plan in hindi) का फास्ट  रिजल्ट पाने के लिए आपको 7-8 घंटे की नींद अवश्य लेनी चाहिए।  दरअसल नींद में ही हमारा शरीर ग्रो करता हैं। पर्याप्त नींद लेने से तनाव कम होता हैं, शरीर की थकान दूर होती हैं, मांसपेशियों को आराम मिलता हैं, पाचन तंत्र मजबूत रहता हैं और शरीर में एनर्जी बढ़ती हैं। आप चाहे तो दिन के भोजन के बाद भी 30 मिनट से एक घंटे तक नींद ले सकते हैं। 

10. खुद को मोटीवेट करें

वजन बढ़ाने के लिए आपका मोटिवेटेड रहना भी बहुत जरूरी हैं। यह सच हैं की नेचुरल तरीके से वजन बढ़ाने में थोड़ा समय जरूर लगता हैं, इसलिए कभी भी डिमोटिवेट न हो और निरंतर प्रयास करते रहें। कुछ लोग वजन बढ़ाने के लिए बहुत जल्दी करते हैं और सोचते हैं की एक से दो महीने में ही उनका वजन 10 किलो तक बढ़ जाए, इसके लिए वे कई शॉर्टकट तरीके भी ढूंढने लगते हैं।

लेकिन आपको ऐसा बिलकुल भी नहीं करना हैं। आप वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) को सही से फॉलो करें, नियमित एक्सरसाइज व योग करें और अपनी लाइफ स्टाइल को बेहतर बनाने की कोशिश करें। एक दिन आपका वजन अवश्य बढ़ेगा।  

निष्कर्ष – Conclusion

अगर एक सही तरीके और प्लान के साथ निरंतर प्रयास किया जाए तो वजन बढ़ाना कोई मुश्किल काम नहीं हैं। उपर हमने जो मोटा के लिए डाइट चार्ट (diet chart for weight gain in hindi) बताया हैं आपको उससे एक आईडिया जरूर हो चूका होगा की आपको क्या खाना हैं और क्या नहीं खाना। साथ ही उपर बताये गए डाइट चार्ट में में आप समय समय पर बदलाव करते रहें, रोज एक जैसा भोजन भी न करें। 

उम्मीद हैं की इजी लाइफ हिंदी का यह आर्टिकल वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (weight gain diet chart in hindi) आपको पसंद आया होगा और आपको इससे कुछ अच्छी जानकारी प्राप्त हुई होगी। अगर फिर भी आपका कोई सवाल हो तो आप निचे कमेंट बॉक्स पर पूछ सकते हैं। साथ ही इस आर्टिकल को अन्य लोगों के साथ शेयर भी कर सकते हैं। 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल – FAQ

Q. वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट में शामिल भोजन किस समय करना चाहिए ? 

Ans. पहली मील का समय – सुबह 7 बजे 
दूसरी मील का समय – सुबह 8.30 बजे 
तीसरी मील का समय – दोपहर 12 बजे 
चौथी मील का समय – दोपहर 2 बजे 
पांचवी मील का समय – शाम 5. 30 बजे 
छठी मील का समय – रात 8 बजे 
सातवीं मील का समय – 10 बजे

आप सुविधानुसार इसमें फेर-बदल भी कर सकते हैं।

Q. अगर कोई मील किसी कारण स्किप हो जाये तो फिर क्या करें ?

Ans. सुबह का नाश्ता, दिन का भोजन और रात के भोजन को कभी मिस न करें। अगर कोई मील स्किप हो जाए तो अगली मील में बहुत ज्यादा भोजन करने की कोशिश न करें।

Q. वजन बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करने से पहले और बाद में क्या खाना चाहिए ?   

Ans. एक्सरसाइज से 30 मिनट पहले आप एक दो उबले आलू या दो केले का खा सकते हैं और एक्सरसाइज के बाद अंडा या पनीर का सेवन कर सकते हैं।

दरअसल एक्सरसाइज से पहले शरीर को एनर्जी की ज्यादा जरूरत होती हैं, इसके लिए कार्बोहायड्रेट सबसे बेस्ट ऑप्शन हैं और एक्सरसाइज के बाद शरीर को प्रोटीन की ज्यादा जरूरत होती हैं।

Q. लड़कियों के लिए वजन बढ़ाने का डाइट चार्ट क्या है

Ans. लड़कियों के लिए भी वजन बढ़ाने का डाइट चार्ट एक जैसा ही है। ऊपर वजन बढ़ाने के डाइट चार्ट में हमने जो भी सुझाव दिए हैं वह लड़के-लड़कियों दोनों के लिए समान है।

 

 आपके लिए कुछ जरूरी आर्टिकल –

Post tags: weight gain diet plan in hindi, diet chart for weight gain in hindi, weight gain diet chart in hindi, vajan badhane ke liye diet chart, mota hone ke liye diet chart

Share This Article

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

Leave a Comment

close button