बालों की ग्रोथ के लिए 8 बेस्ट योगासन | Yoga For Hair Growth in Hindi

Yoga for hair growth in hindi : अगर आप अपने बालों को लंबे समय तक मजबूत, लंबा, घना व काला बनाये रखना चाहते हैं, तो आपको योग का सहारा लेना चाहिए। बालों के लिए योग के फायदे अद्धभुत हैं। योगाभ्यास से सिर की तरफ रक्त संचार अच्छा रहता हैं, जिसकी वजह से बालों को सही से पोषण मिलता हैं और बाल मजबूत, लंबे व घने होते हैं।

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में कुछ लोग अपने बालों का ख्याल सही से नहीं रख पाते हैं। जिसकी वजह से उनके बाल कमजोर, पतले, रूखे व सफेद होने लगते हैं। बालों के रखरखाव के लिए दो चीजें बहुत आवश्यक होती हैं, पोष्टिक डाइट और एक्सरसाइज व योग। पोष्टिक भोजन लेने से बालों को जरूरी पोषक तत्व प्राप्त होते हैं और एक्सरसाइज व योग (Yoga for hair growth in hindi) करने से बालों को मजबूती प्रदान होती हैं। 

बालों के लिए योग | Yoga For Hair Growth in hindi | Yoga for Hair in Hindi

बालों की समस्याओं से निपटने के लिए योग बेहद फायदेमंद हैं और इससे बालों की लगभग सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं। बालों के लिए बेस्ट योगासन (yoga for hair in hindi) इस प्रकार हैं।

1. बालों के लिए फायदेमंद हैं शीर्षासन – Sirsasana For Hair Growth in Hindi

sirsasana yoga pose

शीर्षासन हठयोग का एक प्रसिद्ध आसन हैं। योग का जिक्र आते ही सबसे पहले शीर्षासन की छवि मन मे आती हैं। इस आसन में सिर नीचे जमीन पर और पांव उपर की ओर होते हैं, यानी शरीर का पूरा भार सिर पर होता हैं। जिस वजह से रक्त संचार सिर की तरफ तेजी से बढ़ता हैं। सिर की तरफ रक्त संचार बढ़ने से बालों को पोषण मिलता हैं और बाल लंबे, घने व मजबूत होने लगते हैं। 

सावधानी – बालों के लिए फायदेमंद इस आसन (yoga for hair growth in hindi) को कभी भी भोजन के बाद न करें। हाई ब्लड प्रेशर, गर्भावस्था, सिरदर्द, बुखार व गंभीर शारीरिक समस्या में इस आसन का अभ्यास न करें। साथ ही बिगिनर्स दिवार का सहारा लेकर भी इस आसन का अभ्यास कर सकते हैं।

आसन में रूकने की अवधि – 15 सेकंड से 2 मिनट तक

शीर्षासन की सही विधि जानने के लिए यह आर्टिकल पढ़े – शीर्षासन की विधि, फायदे और सावधानियां 

2. हेयर ग्रोथ के लिए करें सर्वांगासन – Sarvangasana Benefits Hair in Hindi

sarvangasana

बालों के लिए योग (balon ke iye yoga) में सर्वांगासन भी लाभप्रद हैं। सर्वांगासन को सभी अंगों का आसन माना जाता हैं और इसे आसनों की रानी के नाम से भी जाना जाता हैं। सर्वांगासन की स्थिति में भी पांव उपर की ओर हवा में ओर सिर व कंधा जमीन पर होता हैं। शरीर का पूरा भार कंधों पर होता हैं, जिस कारण से इसे शोल्डर स्टैंड पोज भी कहा जाता हैं। सर्वांगासन में रक्त संचार सिर और बालों की ओर तेज होता हैं, जिस वजह से बालों को पोषण मिलता हैं और बाल मजबूत होते हैं।

आसन में रूकने की अवधि – 30 सेकंड से 2 मिनट तक

सावधानी – भोजन के उपरांत इस आसन का अभ्यास न करें। कंधे की चोट, तेज कमर दर्द, बुखार व किसी भी प्रकार की गंभीर शारीरिक समस्या में इस आसन का अभ्यास न करें।

सर्वांगासन की सही विधि जानने के लिए यह आर्टिकल पढ़े – सर्वांगासन की विधि, फायदे और सावधानियां

3. बालों के लिए योग में लाभप्रद हैं उष्‍ट्रासन – Ustrasana For Hair Growth in Hindi

ustrasana yoga

उष्ट्रासन की स्थिति में शरीर की आकर्ति ऊंट के समान दिखाई पड़ती हैं जिस वजह से इसे उष्ट्रासन या Camel Pose भी कहा जाता है। उष्ट्रासन शरीर को लचीला बनाने, पेट की चर्बी कम करने व बालों को मजबूत बनाने में सहायक होता हैं। इस आसन के अभ्यास से सिर की तरफ ब्लड फ्लो तेज होता हैं जिस वजह से बाल मजबूत और लंबे होते हैं। बालों के लिए योग (yoga for hair in hindi) में उष्ट्रासन का अभ्यास अवश्य करें।

उष्ट्रासन की विधि – मैट पर घुटनों के बल बैठ जाएं और अपने हाथों को कूल्हों की करीब रखें। घुटने और कंधे सीधा एक लाइन में होने चाहिए। अब अपनी गर्दन को थोड़ पीछे की तरफ उठाकर, कमर को स्ट्रेच करते हुए अपने हाथों को पैरों की तरफ ले जाएं, जैसा चित्र में दिखाया गया हैं। इस आसन में कुछ देर रहने के बाद विश्राम करें।

सावधानी – कमर से जुड़ी किसी भी प्रकार की गंभीर समस्या में इस आसन का अभ्यास न करें। साथ ही खाली पेट ही इस आसन का अभ्यास करें।

आसन में रूकने की अवधि – 30 सेकंड से 1 मिनट तक

4. बालों के लिए उत्तम हैं उत्तानासन – Utkatasana Benefits For Hair in Hindi

yoga for hair growth in hindi

उत्तानासन को सबसे अच्छा “पूरे शरीर को स्ट्रेच करने वाला योगासन” माना जाता हैं। इस आसन में सीधे खड़े होकर कमर को धीरे-धीरे झुकाते हुए सिर को घुटनों के नजदीक लाना होता हैं। उत्तानासन से बालों की ओर खून का बहाव तेज होता हैं, जिससे बाल मजबूत होते हैं। बालों के लिए फायदेमंद होने के साथ ही उष्ट्रासन फेस पर ग्लो लाने और दिमाग को शांत करने में भी फायदेमंद होता हैं।

उत्तानासन की विधि : सीधे खड़े हो जाएं, सांसों की गति को स्थिर करें और सिर को निचे की ओर पैरों की तरह ले जाने की कोशिश करें। इस अवस्था में कुछ देर रहने के बाद धीरे-धीरे इस आसन से बाहर आ जाएं।

सावधानी – इस आसन को करते समय कमर पर बहुत ज्यादा दबाव न डालें और पहले दिन से ही माथे को घुटनों पर लगाने की जबर्दस्ती न करें। धीरे धीरे इस अभ्यास में आगे बढ़े। इस आसन में निपुण होने में थोड़ा समय लग सकता हैं।

आसन में रूकने की अवधि – 30 सेकंड से 1 मिनट तक

5. ​बालों को मजबूत बनाता हैं अधोमुख श्वानासन

adho-mukha asana

बालों के लिए योगासन (yoga for hair growth in hindi) में अधोमुख श्वानासन भी काफी लाभप्रद हैं। आपने कभी कुत्ते को ध्यान से देखा होगा तो वो अक्सर अपने आगे के दो पैरों को थोड़ा आगे करके और सिर को नीचे की तरफ करके स्ट्रेचिंग करता हैं। कुत्ते के इस स्ट्रेचिंग करने के तरीके को ही “अधोमुख श्वानासन” कहा जाता हैं। इस आसन से चेहरे और सिर की तरफ ब्लड फ्लो तेज होता हैं और बालों को पोषण मिलता हैं।

अधोमुख श्वानासन की विधि : सबसे पहले जमीन पर पेट के बल लेट जाएं। अब हाथों और पैरों के बल  शरीर को उपर उठाकर मेज या टेबल जैसी आकर्ति बना लें। कूल्हों को थोड़ा उपर उठाकर, शरीर को V शेप में ले आएं। हाथों को जमीन पर दबाएं रखें और सिर को नाभि की तरफ खींचने की कोशिश करें। कुछ देर ठहरने के बाद इस आसन से धीरे-धीरे बाहर आजाएं।

 सावधानी हाई ब्लड प्रेशर, तेज बुखार व गंभीर शारीरिक समस्या में इस आसन का अभ्यास न करें। साथ ही इस आसन को करते समय कमर की स्थिति पर वशेष ध्यान दें।

आसन में रूकने की अवधि – 30 सेकंड से 1 मिनट तक

6. बालों के लिए लाभकारी हैं वज्रासन – Vajrasana For Hair Growth in Hindi

vajrasana yoga pose

वज्रासन योग का अकेला एक ऐसा योगसन हैं जिसका अभ्यास किसी भी समय किया जा सकता हैं, यहाँ तक कि इसका अभ्यास खाना खाने के बाद भी किया जा सकता हैं। पेट की समश्याओं से निजात पाने और पाचन शक्ति को मजबूत बनाने के लिए वज्रासन उपयोगी होता हैं।

बालों का झड़ना, टूटना व पतला होना की एक मुख्य वजह पेट की समश्याएं होती हैं। पेट की ये समश्याएं दूर होने से बालों को भी लाभ प्राप्त होता हैं और बाल मजबूत व लंबे होने लगते हैं।

वज्रासन की विधि जानने के लिए यह आर्टिकल पढ़े – वज्रासन की विधि, फायदे और सावधानियां

7. बालों के लिए योग में लाभप्रद हैं पवनमुक्तासन – Pawanmuktasana For Hair Growth in Hindi

pawanmuktasana

बालों के लिए पवनमुक्तासन (balon ke liye yoga) भी बेहद फायदेमंद होता हैं। इस आसन को करने से शरीर की अतिरिक्त वायु यानी गैस बाहर निकलती हैं, पाचन शक्ति मजबूत होती हैं, मेटाबॉलिस्म अच्छा होता हैं, पेट की कब्ज दूर होती हैं और रक्त संचार बेहतर होता हैं। जिसकी वजह से बालों की समश्याएं भी दूर होती हैं।

पवनमुक्तासन की विधि : पीठ के बल सीधा लेट जाएं, सांस लेते हुए अपने दोनों पैरों को छाती के करीब ले आएं। घुटनों को हाथों से कसकर पकड़ लें और गर्दन को थोड़ा उपर उठाकर घुटनों के करीब ले आएं। ठोड़ी को घुटनों पर टच करने की कोशिश करें। कुछ देर इस अवस्था में बने रहे और फिर धीरे-धीरे इस आसन से बाहर आजाएं। 

सावधानी – हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारी, गर्भावस्ता, गर्दन व  कमर में इस आसन का अभ्यास न करें। 

आसन में रूकने की अवधि – 30 सेकंड से 1 मिनट तक 

8. बालायाम योग –  Balon Ke Liye Balayam Yoga

बालों के लिए योग (yoga for hair in hindi) में बालायाम योग भी काफी प्रचलित हैं। बालायाम दो सब्द बाल और व्यायाम से मिलकर बना हैं, जिसका अर्थ हैं बालों का व्यायाम।  इस योग में दोनों हाथों के नाखूनों को आपस मे रगड़ा जाता हैं। कहा जाता हैं कि नाखूनों को आपस मे रगड़ने से बालों को फायदा होता हैं और इससे बाल मजबूत व घने होते हैं। लेकिन इस बात का अभी तक कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिला हैं।

बाल कमजोर होने के कुछ मुख्य कारण

बालों के लिए योग के फायदे (yoga for hair growth in hindi) तो आप जान ही चुके हैं, इसके साथ ही आपको कुछ अन्य बातों का भी ध्यान अवश्य रखना चाहिए। आगे जानते हैं बालों को कमजोर बनाने वाले कुछ मुख्य कारण क्या हैं।

1. प्रोटीन की कमी – बालों के लिए प्रोटीन सबसे आवश्यक पोषक तत्व हैं। बालों के निर्माण में भी प्रोटीन की एक अहम भूमिका होती हैं। पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन न लेने से बाल कमजोर और बेजान होने लगते हैं।

2. हेयर प्रोडक्ट्स – बहुत ज्यादा हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल भी बालों के स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होता हैं। ज्यादा हेयर प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बाल बेजान, रूखे व कमजोर होकर झड़ने लगते हैं।

3. शैम्पू व कंडीशनर का ज्यादा इस्तेमाल – बहुत ज्यादा शैम्पू व कंडीशनर के इस्तेमाल से भी बालों की हेल्थ पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं। ज्यादातर शैम्पू व कंडीशनर में हार्ड केमिकल्स का इस्तेमाल किया जाता हैं, जो बालों को कमजोर बनाते हैं।

4. ज्यादा तनाव लेना – मानसिक तनाव, शरीर की हर बड़ी समस्या का एक मुख्य कारण होता हैं। तनाव का असर स्किन और बालों पर भी पड़ता हैं और इससे बाल झड़ने लगते हैं।

5. गलत खानपान – बहुत ज्यादा ऑयली फूड, फास्ट फूड व शुगर के इस्तेमाल से भी बाल कमजोर होते हैं। इनकी जगह विटामिन और मिनरल से भरपूर फल व सब्जियों का सेवन करना चाहिए। विटामिन-सी, विटामिन-ई, विटामिन-बी व आयरन बालों के लिए लाभप्रद होते हैं।

सारांश | Summery

बालों के लिए योग (yoga for hair growth in hindi) बहुत महत्वपूर्ण हैं। अक्सर लोग बालों की समस्या के लिए महंगे-महंगे प्रोडक्ट्स के पीछे भागते हैं, जिससे बालों की समस्या कुछ समय के  लिए तो ठीक हो सकती हैं, लेकिन लंबे समय तक इन प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से बाल और भी ज्यादा कमजोर और पतले होने लगते हैं। बालों को लंबे समय तक मजबूत बनाने के लिए योग, एक्सरसाइज व सही डाइट ही फायदेमंद रहती हैं।

बालों के लिए उपर बताए गए योगासन (yoga for hair in hindi) के निरंतर अभ्यास से आपको लाभ प्राप्त होगा। इन आसनों के साथ-साथ आप अपनी डाइट पर भी बराबर ध्यान दें और हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कम करें। इस तरह आप बालों की समस्या से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं। यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अवश्य शेयर करें।

आपके लिए कुछ उपयोगी पोस्ट –

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

Leave a Comment

close button