पेट की गैस के कारण, लक्षण और घरेलू इलाज | Pet Ki Gas Ka Iilaj

Pet ki gas ka ilaj : आज के समय में पेट की गैस एक गंभीर समश्या बनकर उभर रही हैं। शारीरिक गतिविधि का आभव, अनियमित जीवन शैली, फास्ट फूड और ऑयली फूड का सेवन पेट की गैस के कुछ मुख्य कारण हैं। बढ़ती उम्र के साथ पेट में गैस होना एक आम बात हैं मगर आजकल यह बीमारी स्कूल में पढ़ने वाले छोटे बच्चों और नोजवानों में भी देखने को मिल रही हैं। इसलिए पेट की गैस का इलाज और उपाय (gas ka ilaj) जानना सभी के लिए आवश्यक हैं।

पेट मे गैस बनने का मुख्य कारण (pet ki gas ka karan) आधुनिक जीवन शैली और खानपान हैं। पेट की गैस काफी कष्टदायक होती हैं, पेट में गैस बनने के कारण मरीज को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं।

कई बार गैस के कारण पेट में अचानक इतनी तेज दर्द होता हैं कि मरीज को तुरंत अस्पताल में भर्ती करना पड़ता हैं। पेट की गैस से छुटकारा (pet ki gas ka ilaj) पाने के लिए यह आर्टिकल अंत तक पढ़े।

पेट की गैस के कारण / पेट की गैस क्यों होती हैं

पेट में गैस होने के बहुत से कारण हो सकते हैं, मगर अनियमित खानपान और बदलती जीवन शैली पेट की गैस का मुख्य कारण (pet ki gas ka karan) हैं। साथ ही पेट की गैस के कुछ अन्य कारण इस प्रकार हैं

  • बहुत ज्यादा भोजन करना
  • दिनभर एक जगह पर बैठे रहना
  • फास्ट फूड और ऑयली फूड का ज्यादा सेवन करना
  • खाना सही से न पचना या पाचन तंत्र का कमजोर होना
  • सुबह पेट सही से साफ न होना
  • मोटापा या बढ़ता वजन
  • भोजन में फाइबर की कमी होना
  • बहुत जल्दी में भोजन करना, भोजन को ठीक तरह से चबाकर न खाना
  • शराब का ज्यादा सेवन करना
  • बहुत ज्यादा तनाव और चिंता करना
  • बासी भोजन करना
  • बहुत ज्यादा मीठा खाना
  • चाय व कॉफी का ज्यादा सेवन करना
  • बहुत ज्यादा दवाइयों का सेवन करना
  • भोजन करने के बाद एक जगह बैठ जाना
  • कम पानी पीना
  • नींद की कमी

पेट की गैस के लक्षण / पेट मे गैस बनने के लक्षण / Pet ki gas ke lakshan in hindi

पेट में गैस बनने का कोई एक लक्षण नहीं हैं, पेट में गैस के कई लक्षण हो सकते हैं। सामान्यतः लोग पेट में उठने वाले दर्द को गैस से जोड़ देते हैं, जो सही नहीं हैं, पेट दर्द के अन्य कारण भी हो सकते हैं। पेट की गैस के कुछ सामान्य लक्षण (pet ki gas ke lakshan in hindi) इस प्रकार हैं

  • पेट में दर्द होना पेट की गैस का मुख्य लक्षण हैं।
  • पेट में ऐंठन व पेट का भारी रहना
  • पेट फूलना
  • सुबह पेट सही से साफ न होना
  • सिर में दर्द होना
  • कुछ भी खाने का मन न करना या भूख न लगना
  • मुंह से बदबू आना
  • बार बार डकार आना

पेट की गैस के यह कुछ सामान्य लक्षण (pet gas ke lakshan) हैं। इसके साथ ही पेट की गैस में उल्टी व खूनी दस्त भी हो सकते हैं, इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। साथ ही अगर पेट की गैस के कारण यदि पेट में बहुत तेज दर्द हो और दर्द काबू में न आए तो भी तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए, इसमें बिल्कुल भी अनदेखी न करें।

पेट की गैस का घरेलू इलाज / Pet ki gas ka gharelu upchar in hindi / Pet ki gas ka ilaj

पेट की गैस को ठीक करने के लिए घरेलू उपाय (pet ki gas ke gharelu upchar in hindi) बहुत ज्यादा कारगर होते हैं। पेट की गैस में तुरंत आराम पहुंचाने में मददगार इन नुस्खों का किसी प्रकार का कोई नुकसान भी नहीं हैं और इनके इस्तेमाल का तरीका भी काफी आसान हैं। पेट की गैस का घरेलू उपचार (home remedy for gas problem in hindi) इस प्रकार हैं।

1. पेट की गैस का इलाज हैं तुलसी, अदरक व नींबू की चाय / home remedy for gas problem in hindi

पेट की गैस का रामबाण इलाज (pet ki gas ka ilaj) में तुलसी, अदरक व नींबू की चाय पीना बहुत फायदेमंद होता हैं। यह चाय पेट में जमा गंदगी को बाहर निकालने और बॉडी को डिटॉक्स करने में मदद करती हैं। साथ ही इसके सेवन से पाचन तंत्र मजबूत होता हैं और शरीर का मेटाबॉलिज्म (चयापचय) बूस्ट होता हैं, जिससे पाचन में सुधार होता हैं और पेट की गैस की परेशानी (pet ki gas ka ilaj) दूर होती हैं।

तुलसी, अदरक और नींबू की चाय बनाने का तरीका :

  • सबसे पहले आधा गिलास पानी को उबाल लें
  • उसके बाद इसमें अदरक का एक छोटा टुकड़ा और तुलसी के 5 से 6 पत्ते पीसकर डालें
  • उन्हें अच्छी तरह उबलने दें
  • उबलने के बाद इसे छान लें और इसमे आधा चम्मच नींबू का रस मिलाएं
  • जब यह थोड़ा ठंडा हो जाए तब इसमे एक चम्मच शहद मिलाएं और आराम से बैठकर इस चाय का आनंद लें
  • ध्यान दें कि इस चाय का सेवन सुबह खाली पेट न करें
  • यह पेट की गैस के लिए रामबाण दवा (pet ki gas ka ilaj) हैं

2. पेट की गैस का घरेलू इलाज हैं जीरा पानी / jeera water : Home remedy for gas problem in hindi

पेट की गैस को दूर करने के उपाय (pet ki gas ka ilaj) में जीरा पानी भी काफी फायदेमंद होता हैं। जीरा पानी पाचन शक्ति को मजबूत करता हैं, मोटापा कम करता हैं, पेट की कब्ज़ को दूर करने में फायदेमंद होता हैं और जीरा पानी पीने से मेटाबोलिज्म भी बूस्ट होता हैं जिससे खाना तेजी से पचता हैं और पेट मे गैस की परेशानी नहीं होती। पेट की गैस के लिए (pet ki gas ka upchar in hindi) जीरा पानी का सेवन इस तरह करें।

  •  सबसे पहले एक गिलास पानी को गर्म करने के लिए रख दें
  •  उसके बाद उसमें एक चम्मच जीरा डालें और उसे तब तक उबलने दें जब तक कि पानी एक गिलास से आधा गिलास न रह जाए
  • उसके बाद जीरे को छान लें और जीरा पानी को आराम से बैठकर पिएं
  • आप चाहे तो उसके बाद बचा हुआ जीरा खा भी सकते हैं, इसका कोई नुकसान नहीं हैं
  • इसका सेवन भोजन के एक से डेढ़ घंटे बाद करें

3. पेट की गैस का रामबाण इलाज हैं छाछ / Chaach : Pet ki gas ka ilaj

पेट की गैस (pet ki gas ka gharelu upay) और एसिडिटी के लिए छाछ सबसे बेहतरीन ड्रिंक हैं। दही से बनी छाछ का सेवन करने से पाचन शक्ति मजबूत होती हैं, पेट का भारीपन दूर होता हैं, खाना आसानी से पचता हैं और पेट की गर्मी दूर होती हैं। साथ ही इसके सेवन से आफरा, भूख न लगना, पेट में जलन और अपच की परेशानी भी दूर होती हैं।

दिमाग को शांत रखने में भी छाछ का सेवन फायदेमंद होता हैं। देखा जाए तो पेट की गैस (pet me gas ka ilaj in hindi) के साथ साथ पेट की अन्य परेशानियों के लिए भी छाछ फायदेमंद हैं।

पेट की गैस के लिए छाछ का सेवन दिन के भोजन के थोड़ी देर बाद करें। आप चाहे तो इसमें थोड़ा काला नमक और काली मिर्च भी मिक्स कर सकते हैं। इससे छाछ का स्वाद तो बढ़ता ही हैं साथ ही इसके फायदे भी और ज्यादा बढ़ जाते हैं।

4. पेट की गैस का घरेलू उपाय हैं दालचीनी / dalchini powder : pet ki gas ka gharelu upchar in hindi

दालचीनी का इस्तेमाल मुख्यतः मसाले के रूप में खाना बनाने के लिए किया जाता हैं। दालचीनी खाने का स्वाद बढ़ाने में मदद तो करती ही हैं साथ में इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं। दालचीनी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट हैं जो शरीर से विषैले पदाथों को बाहर निकालने का काम करती हैं, जिससे शरीर की इम्युनिटी बढ़ती हैं, आंतों में जमा गंदगी साफ होती हैं, मोटापा कम होता हैं और पेट की गैस, अपच व कब्ज में राहत मिलती हैं। पेट की गैस का इलाज (pet ki gas ka upchar in hindi) में दालचीनी का इस्तेमाल इस प्रकार कर सकते हैं।

  • सबसे पहले एक गिलास पानी गर्म कर लें
  • उमसे छोटा आधा चम्मच दालचीनी मिक्स करें
  • पानी को थोड़ा ठंडा होने के लिए छोड़ दें
  • जब यह पीने लायक हो जाए तब इसे आराम से बैठकर चाय की तरह पिएं
  • बेहतर परिणाम के लिए इसका सेवन सुबह खाली पेट करना चाहिए
  • इसे पीने के बाद 30 मिनट तक कुछ भी न खाएं

5. पेट की गैस का देशी इलाज हैं अजवाइन / Ajwain: Home remedy for gas problem in hindi

अजवाइन भी पेट की गैस के लिए (pet ki gas ka ilaj) एक बहुत अच्छी ओषिधि हैं और इसका इस्तेमाल पुराने समय से ही पेट की गैस और अपच को दूर करने के लिए किया जाता रहा हैं। अजवाइन में  एंटी बैक्टीरियल गुण और कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो पेट की गैस को बढ़ने नहीं देते और तुरंत इस पर काबू पा लेते हैं।

अगर कभी पेट में तेज गैस बनने लगे और कुछ समझ न आए की क्या करें, उस समय अजवाइन का इस्तेमाल बहुत ज्यादा फायदेमंद होता हैं। अजवाइन पेट की गैस का एक अच्छा और कारगर देसी इलाज (pet ki gas ka gharelu upay) हैं। पेट की गैस के लिए अजवाइन का इस्तेमाल इस तरह कर सकते हैं।

इस्तेमाल का पहला तरीका :

  • गैस होने पर एक से एक चौथाई चम्मच अजवाइन को चबा चबाकर खाएं
  • आप चाहे तो इसे गुड़ के साथ भी खा सकते हैं

इस्तेमाल का दूसरा तरीका :

  • रात को एक गिलास पानी में एक चम्मच अजवाइन भिगोकर रख दें
  • अगली सुबह इस पानी को छान लें और घुट घुट करके अजवाइन का यह पानी पिएं
  • बेहतर परिणाम के लिए इसके सेवन के बाद 30 मिनट तक कुछ न खाएं

6. पेट की गैस के लिए फायदेमंद हैं दही / Curd: Pet ki gas ka gharelu ilaj

दही का सेवन भी पेट की गैस में फायदेमंद होता हैं। दही में प्रोबायोटिक गुण होते हैं जिससे शरीर में विभिन्न प्रकार की समस्याएं जैसे पेट दर्द, पेट की गैस, कब्ज, एसिडिटी व अपच में आराम मिलता हैं। साथ ही दही की तासीर ठंडी होती हैं जिससे पेट को आराम मिलता हैं और दिमाग भी शांत रहता हैं।

पेट की गैस का घरेलू उपचार (Pet ki gas ka gharelu upchar in hindi) में दही का सेवन इस प्रकार करें।

  • एक कटोरी दही में थोड़ा भुना हुआ जीरा, थोड़ी काली मिर्च और थोड़ी हींग मिलाए
  • इसके बाद इसमें थोड़ा काला नमक भी इसमें मिलाए
  • अब इन सभी को अच्छे से मिक्स कर लें
  • और उसके बाद आराम से बैठकर दही का सेवन करें

यह भी पढ़े : आयुर्वेद के अनुसार दही खाने का सही समय और सही तरीका जरूर जान लें 

कुछ लोग दही में चीनी मिक्स करके खाते हैं, जो बहुत ज्यादा नुकसानदायक (chini ke nuksan) हैं। पेट की गैस (pet me gas ka ilaj in hindi) में आपको किसी भी चीज में चीनी का इस्तेमाल नहीं करना हैं। चीनी पेट की गैस को बढ़ावा देने का कार्य करता करती हैं, साथ ही दही में चीनी मिलाकर खाने से दही के फायदे भी अच्छे से नहीं मिल पाते हैं।

7. पेट की गैस का घरेलू उपचार हैं आंवला पाउडर / Amla powder : Pet ki gas ka ilaj

आंवला पाउडर आंवला को सुखाकर बनाया जाता हैं। जिसमे भरपूर मात्रा में विटामिन सी, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट और कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो पेट की बीमारियों के लिए रामबाण दवा का काम करते हैं। साथ ही आंवला चूर्ण पतले होने, कब्ज को दूर करने, बॉडी को डिटॉक्स करने और स्किन व बालों के लिए भी लाभकारी होता हैं। पेट गैस के लिए आंवला चूर्ण इस्तेमाल करने का तरीका नीचे दिया गया हैं।

8. पेट में गैस का इलाज हैं अदरक / Ginger: Home remedy for gas problem in hindi

अदरक का इस्तेमाल लगभग हर घर में किसी न किसी रूप में किया जाता हैं, साथ ही अदरक की चाय का स्वाद किसे पसंद नहीं हैं। आयुर्वेद में भी अदरक का बड़ा ही महत्व हैं और इसका इस्तेमाल ओषधि के रूप में कई बीमारियों के इलाज में किया जाता हैं। पेट की गैस का घरेलू इलाज (home remedy for gas problem in hindi) में भी अदरक का सेवन फायदेमंद होता हैं।

अदरक के सेवन से पेट हल्का होता हैं, पेट अच्छी तरह साफ होता हैं और आंतों में जमा गंदगी बाहर निकलती हैं। वैसे तो अदरक का सेवन आप कई तरीकों से कर सकते हैं, पेट की गैस के लिए (gas ka ilaj) एक छोटा टुकड़ा अदरक में थोड़ा काला नमक मिक्स करके चूसने से फायदा होता हैं, साथ ही अदरक की चाय और अदरक का बना काढ़ा भी पेट की गैस में आराम देता हैं। यह भी पढ़े : पेट की चर्बी और मोटापा तेजी से कम करने के लिए बेहतरीन 10 ड्रिंक

पेट की गैस में तुरंत आराम पाने के उपाय (pet ki gas ka upchar) / Instant relief home remedy for gas in hindi

कभी कभी पेट की गैस अचानक से गैस बढ़ जाती हैं और पेट में दर्द होने लगता हैं, ऐसी स्थिति में रोगी को समझ नहीं आता कि क्या किया जाए। नीचे आपको पेट की गैस में तुरंत आराम देने वाले उपाय (Instant relief for gas in hindi) बताए गए हैं, जिससे पेट की गैस में लाभ होगा।

1. अचानक पेट में गैस बढ़ने पर काली मिर्च की चाय बनाकर पिएं, इससे तुरंत आराम मिलेगा।

2. एक नींबू को बीच से आधा काटकर उसके ऊपर थोड़ा काला नमक छिड़ककर, नींबू को चाटने से गैस में तुरंत आराम (pet gas ka upchar) मिलता हैं।

3. नींबू की बनी शिकंजी भी पेट की गैस में तुरंत आराम देने का कार्य करती हैं।

4. पेट की गैस में तुरंत आराम पाने के (quick relief home remedy for gas in hindi) लिए एक लौंग को अपने मुंह के अंदर दबा दें और धीरे धीरे टॉफी की तरह उसे चूसते रहें।

5. एक गिलास छाछ में तोड़ा पीसा व भुना हुआ जीरा, पीसी हुई काली मिर्च और थोड़ी हींग मिक्स करके पीने से गैस में तुरंत आराम मिलता हैं।

6. आधा चम्मच अजवाइन के चूर्ण को गर्म पानी के साथ लेने से भी गैस में तुरंत राहत मिलती हैं।

7. मूली के ताजे रस में थोड़ा काला नमक मिक्स करके पीने से भी गैस में तुरंत आराम (pet gas ka upay) मिलता हैं।

गैस की बीमारी में डॉक्टर के पास कब जाना चाहिए

घरेलू नुस्खों का जब गैस की बीमारी में कोई असर न हो या पेट में बहुत तेज दर्द होने लगे तो इसे तुरंत डॉक्टर को दिखाना चाहिए। साथ ही अगर पेट की गैस एक लंबे समय से हैं और समय समय पर होती रहती हैं तो भी इसे एक बार डॉक्टर से जरूर चेक कराए।

पेट की गैस से बचाव के उपाय / Pet ki gas ka ilaj

पेट की गैस का घरेलू उपचार (home remedy for gas problem in hindi) व गैस का इलाज (gas ka desi ilaj) जानने के साथ साथ कुछ जरूरी चीजों को भी जानना बहुत जरूरी हैं। अगर आप पेट की गैस को हमेशा के लिए जड़ से समाप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको अपने खानपान और जीवन शैली में थोड़ा बदलाव करने की आवश्यकता हैं। आगे जानते हैं पेट की गैस से बचने के उपाय (pet ki gas ke upay) क्या हैं।

1. पेट की गैस से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं

पानी पेट की गैस और पेट से संबंधित लगभग सभी बीमारियों का इलाज (pet me gas ke upay) हैं। पर्याप्त मात्रा में पानी पीने से शरीर में अवांछित पदार्थ बाहर निकलते हैं, आंतों की सफाई होती हैं और पेट खुलकर साफ होता हैं। गैस से छुटकारा पाने के लिए दिनभर 3 से 4 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए, इसके साथ ही सुबह शाम गर्म पानी पीने से भी गैस की बीमारी में लाभ होता हैं।

यह भी पढ़े : अजीवन स्वस्थ रहने के 21 नियम और घरेलू उपाय

2. ज्यादा भोजन करने से बचें

एक बारी में बहुत ज्यादा भोजन भी गैस का एक मुख्य कारण हैं। देखा गया हैं की कुछ लोग बहुत अधिक भोजन कर लेते हैं जिसकी वजह से भोजन सही से नहीं पच पाता और पेट में गैस, अपच व कब्ज जैसी बीमारियां पनपने लगती हैं।

एक बारी में अधिक भोजन करने की जगह दिन में 3 से 4 बार थोड़ी थोड़ी मात्रा में भोजन करना चाहिए। यह गैस का एक सबसे अच्छा इलाज हैं (gas ka ilaj) और ऐसा करने से शरीर का मोटापा भी कम होता हैं और शरीर फिट व स्वस्थ रहता हैं।

3. गैस से बचने के लिए भारी भोजन न करें

भारी भोजन को पचाने में काफी समय लगता हैं और भारी भोजन सही से भी नहीं पच पाता, परिणामस्वरूप शरीर में गैस एसिडिटी, अपच और कब्ज जैसी समस्याएं उत्पन्न होने लगती हैं। पेट की गैस से बचने के उपाय (pet gas ke upay) में भारी भोजन से दूर रहे, खासकर रात के समय भारी भोजन जैसे पराठे, तेल में बनी चीजें, मांस व मछली, राजमा दाल, चना दाल आदि का सेवन बिल्कुल भी न करें।

4. गैस से बचाव का तरीका हैं फास्ट फूड और ऑयली फूड से दूरी

पेट की गैस (pat ki gas ka ilaj) से बचने के लिए फास्ट फूड का सेवन बिलकुल भी न करें। फास्ट फूड और ऑयली फूड बहुत ज्यादा भारी भोजन होते हैं जिन्हें पचाने में पाचन तंत्र को बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती हैं, जिसके कारण पाचन तंत्र कमजोर पड़ने लगता हैं और मेटाबोलिज्म भी स्लो होने लगता हैं। पाचन तंत्र और मेटाबोलिज्म स्लो होने से पेट संबंधी परेशानियां उभरने लगती हैं और पेट में गैस बढ़ने लगती हैं।

5. पेट की गैस से बचने के लिए भोजन की आदतों में सुधार करें।

पेट में गैस बनने का एक मुख्य कारण गलत तरीके से भोजन करना भी हैं। समय पर भोजन न करना, जल्दी में भोजन करना, भोजन को चबाकर न खाना, भोजन के बीच में बहुत ज्यादा पानी पीना और भोजन करने के तुरंत बाद एक ही जगह पर बैठे रहना आदि कारणों से भी भोजन सही से नहीं पच पाता हैं जिसके कारण पेट में गैस, एसिडिटी और कब्ज जैसी बीमारियां होने लगती हैं।

पेट की गैस के घरेलू उपाय (home remedy for gas problem in hindi) भी तभी कारगर साबित होंगे जब आप भोजन की इन आदतों में सुधार करेंगे।

6. पेट की गैस से बचाव के लिए शारीरिक गतिविधि बढ़ाये

देखा गया हैं कि जिन लोगों की शारीरिक गतिविधि कम होती हैं उनमें पेट की गैस बनने का खतरा ज्यादा होता हैं। शारीरिक गतिविधि के अभाव के कारण भोजन को पचाने में मुश्किल होती हैं, जिसके कारण पेट मे गैस बनने लगती हैं और साथ ही मोटापा भी बढ़ने लगता हैं।

इसलिए जरूरी हैं कि ज्यादा से ज्यादा शारीरिक गतिविधि को बढ़ाये, इसके लिए मॉर्निंग वॉक करें, घर के काम स्वयं करें, ज्यादा से ज्यादा पैदल चले और थोड़ा समय निकालकर एक्सरसाइज व योग जरूर करें।

यह भी पढ़े : बिना एक्सरसाइज और जिम के वजन कम करने का तरीका

7. जीवन शैली में बदलाव हैं जरूरी

आज के समय में बदलती जीवन शैली विभिन्न शारीरिक समस्याओं की एक मुख्य वजह हैं। देर रात तक जागना, सुबह देर से उठना, धूम्रपान व शराब का सेवन करना, रात का भोजन देरी से करना, बाहर का अनहेल्दी भोजन करना और पैक्ड फूड का ज्यादा सेवन करना भी पेट की गैस की कुछ मुख्य वजह हैं, जिसमे आपको सुधार करने की सख्त जरूरत हैं। पेट की गैस का इलाज (gas ka ilaj) तभी संभव हैं जब आप अपनी इन बुरी आदतों को सुधार सकें।

पेट की गैस के लिए योग / pet ki gas ke liye yoga in hindi

योग लगभग हर बीमारी का इलाज हैं और इसमें गैस की बीमारी भी शामिल हैं, हम आपको 6 ऐसे योगासन और प्राणायाम बता रहे हैं जिनके निरंतर अभ्यास से पेट की गैस में आराम मिलता हैं। पेट की गैस के लिए योग (pet gas ke liye yoga in hindi) इस प्रकार हैं।

1. पवनमुक्तासन – पेट की गैस व कब्ज के लिए पवनमुक्तासन बहुत लाभकारी हैं, इस अभ्यास को करने से पेट की मसल मजबूत होती हैं, पाचन तंत्र में सुधार होता हैं और मेटाबॉलिज्म बूस्ट होता हैं।

2. बालासन – बालासन पेट की गैस के लिए एक बहुत ही अच्छा (pet ki gas ka ilaj) और करने में सबसे आसान योगासन हैं। इस आसन से पेट की मांसपेशियों में खिंचाव पड़ता हैं जिससे गैस और अपच की बीमारी दूर होती हैं और पाचन शक्ति भी मजबूत होती हैं।

3. पश्चिमोत्तानासन – पेट की गैस का उपचार (pet ki gas ka upchar in hindi) में पश्चिमोत्तानासन भी एक लाभकारी आसन हैं। इस आसन के निरंतर अभ्यास से पेट की मांसपेशियां मजबूत होती हैं, पेट की अतिरिक्त चर्बी कम होती हैं और कमर दर्द में भी आराम मिलता हैं।

4. भुजंगासन – भुजंगासन यानी सर्प की मुद्रा इसे कोबरा पोज भी कहा जाता हैं। मोटापा कम करने, पेट की गैस, अपच और कब्ज को दूर करने तथा कमर दर्द को दूर करने के लिए भुजंगासन बहुत लाभकारी होता हैं।

5. वज्रासन वज्रासन एक ऐसा आसन हैं जिसे खाना खाने के बाद भी किया जा सकता हैं, वज्रासन करने से भोजन अच्छी तरह व जल्दी पचता हैं साथ ही इससे डाइजेस्टिव सिस्टम भी मजबूत होता हैं। वज्रासन एक अच्छा गैस का इलाज (pet ki gas ka ilaj) हैं इसे आप अवश्य करें।

6. कपालभाति प्राणायाम – कपालभाति प्राणायाम को हजारों रोगों की दवा माना जाता हैं, इसके निरंतर अभ्यास से पेट की गैस में भी आराम मिलता हैं, साथ ही मोटापा और तनाव को कम करने में भी कपालभाति प्राणायाम लाभकारी होता हैं। बता दें कि मोटापा और तनाव दोनों ही गैस के मुख्य कारण हैं।

यह भी पढ़ें: वजन कम करने के लिए 10 बेहतरीन योगासन

पेट की गैस को कुछ लोग गंभीर रूप से नहीं लेते हैं और इसे अनदेखा करते हैं मगर यदि इसका समय से इलाज (pet ki gas ka ilaj) न किया गया तो यह एक गंभीर समस्या बन जाती हैं। पेट की गैस कब पेट की कब्ज में बदल जाती हैं और कब कब्ज बवासीर जैसी भयंकर बीमारी का रूप में बदल जाए इसका पता नहीं चलता।

इसलिए समय पर पेट की गैस का इलाज (pet ki gas ka ilaj) बहुत जरूरी हैं जिससे यह कोई गंभीर रूप न ले सके। पेट की गैस का उपचार (pet ki gas ka upchar in hindi) के लिए आप हमारे ऊपर बताए गए घरेलू उपाय और गैस से बचाव के तरीके आजमा सकते हैं, इससे आपको लाभ प्राप्त होगा।

Post Tags : pet ki gas ka ilaj, pet gas ka ilaj, pet ki gas ka upchar in hindi, pet ki gas ke upay, pet gas ke ghrelu upay, home remedy for gas problem in hindi, instant relief in gas problem in hindi, pet gas ka desi ilaj

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

Leave a Comment

close button