आयल पुल्लिंग (तेल से कुल्ला) करते हैं तो इन 5 बातों का जरूर रखें ध्यान, नहीं तो हो सकते हैं भयानक नुकसान

oil pulling ke nuksan :  इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको डराना नहीं चाहते बल्कि सही जानकारी आप तक पहुंचाना चाहते हैं क्योंकि हर चीज के फायदे और नुकसान होते हैं अगर आपको ऑइल पुल्लिंग के फायदे (oil pulling benefits in hindi) के विषय में पूर्ण जानकारी हैं तो आपको ऑइल पुल्लिंग के नुकसान (oil pulling side effects in hindi) भी पता होने चाहिए। 

ऑयल पुल्लिंग के क्या फायदे हैं (तेल से कुल्ला करने के फायदे) तो आप सभी जानते ही होंगे आज हम बात करेंगे ऑयल पुल्लिंग के नुकसान (तेल से कुल्ला करने के नुकसान ) की। कुछ लोगो को जानकर हैरानी होगी की ऑयल पुल्लिंग के साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। 

अगर अभी तक आप सिर्फ ऑयल पुल्लिंग करने के फायदे (oil pulling karne ke fayde) ही जानते थे तो आपको जानकार आश्चर्यचकित होगा की ऑयल पुल्लिंग करने के नुकसान (Oil pulling ke side effects) भी हो सकते हैं और बहुत कम लोगों को इसकी जानकारी होती हैं। 

ऑयल पुल्लिंग क्या हैं  | Oil Pulling in hindi

जिन लोगो को ऑयल पुल्लिंग क्या हैं (What is oil pulling in hindi) के विषय में जानकारी नहीं हैं उन्हें बता दे की ऑयल पुल्लिंग (Oil Pulling in Hindi) एक प्राचीन भारतीय दंत तकनीक (ancient oral practice) हैं जिसमे आपको कुछ देर के लिए तेल से कुल्ला करना होता हैं। Oil Pulling को आयुर्वेद में “Kavala” या  “Gundusha,”  के नाम से भी जाना जाता हैं। सामान्यतः ओरल हाइजीन (oral hygiene) के लिए oil pulling का इस्तेमाल किया जाता हैं।  

ऑयल पुल्लिंग कैसे करें | Oil pulling kaise kare

coconut oil

ऑयल पुल्लिंग करने का सही तरीका (oil pulling kaise kare) हैं की आपको एक चम्मच तेल को अपने मुँह के अंदर रखकर इसे मुंह के चारों तरफ घुमाना होता हैं। एक आसान भाषा में कहे तो इसे ठीक उसी तरह करना होता हैं जिस तरह पानी से कुल्ला किया जाता हैं। 

ध्यान रहें की यह तेल गलती से भी पीना या निगलना नहीं हैं इसे बाहर थूक देना हैं। इसी क्रिया को ऑयल पुल्लिंग (oil pulling) कहते हैं इसे आप तेल से कुल्ला करना (ऑयल से कुल्ला करना ) भी कह सकते हैं।  

ऑयल पुल्लिंग किस तेल से करें | Best oil for oil pulling in hindi

आप नारियल तेल से कुल्ला कर सकते हैं (coconut oil for oil pulling), सरसों के तेल से कुल्ला (mustard oil for oil pulling) कर सकते हैं या फिर ऑयल पुल्लिंग करने के लिए आप कोई सा भी खाद्य तेल (edible oil) का इस्तेमाल कर सकते हैं जो खाना पकाने में इस्तेमाल किया जाता हो।

यह भी पढ़े : आयुर्वेद के अनुसार केला खाने का सही समय और सही तरीका क्या हैं? कही आप गलत तरीके से तो केला नहीं खा रहें?

 ऑयल पुल्लिंग के फायदे | तेल से कुल्ला करने के फायदे | Oil Pulling Benefits in Hindi

हमारे मुँह के अंदर करोड़ो की संख्या में हानिकारक बैक्टीरिया होते हैं इन्हे बैक्टीरिया के कारण दांतों में दर्द, दांतो का पीला पड़ना, मसूड़ों में दर्द, मुँह की बदबू, चेहरे पर मुँहासे, फोड़े- फुंसी, पेट में दर्द, गले में दर्द, बाल झड़ना और रक्त का दूषित होना जैसी अनेकों बीमारियां और परेशानियां होती हैं। 

जब हम पानी से कुल्ला करते हैं तो यह बैक्टीरिया पूरी तरह से पानी के साथ बाहर नहीं निकल पाते हैं जबकि तेल से कुल्ला करने पर यह बैक्टीरिया तेल के साथ चिपक जाते हैं और आसानी से बाहर निकल जाते हैं इसीलिए तेल से कुल्ला करने के फायदे यानि ऑयल पुल्लिंग के फायदे (oil pulling benefits in hindi) पानी से कुल्ला करने के मुकाबले ज्यादा लाभकारी और स्वास्थ्यवर्धक होते हैं।

ऑयल पुल्लिंग के फायदे (Benefits of oil pulling in hindi) बेहतरीन होते हैं नियमित तेल से कुल्ला करने के फायदे इस प्रकार हैं। 

  • पीले दांत सफ़ेद होने लगते हैं। 
  • दांतों का दर्द दूर होता हैं। 
  • मसूड़ों में दर्द (Pain in gums) और सड़न की शिकायत दूर होती हैं। 
  • कैविटी (cavity) की समस्या दूर होती हैं। 
  • मुँह की दुर्गंध (Bad breath) से निजात मिलता हैं। 
  • चेहरे पर चमक बढ़ती हैं और मुंहासों (Pimples) से राहत मिलती हैं। 
  • शरीर से विषैले पदार्थ (Body Toxins) बाहर निकल जाते हैं। 
  • रक्त साफ होता हैं। 
  • बालों का स्वास्थ्य अच्छा रहता हैं।
  • पेट की अनेक परेशानियों से छुटकारा मिलता हैं।  

ऑयल पुल्लिंग के नुकसान | तेल से कुल्ला करने के नुकसान | Oil Pulling Side Effects In Hindi | Oil pulling ke Nuksan

ऑयल पुल्लिंग क्या हैं और ऑयल पुल्लिंग के फायदे जानने के बाद अब बात आती हैं की क्या ऑयल पुल्लिंग के नुकसान (oil pulling ke nuksan) भी हो सकते हैं। जैसा की हमने उपर बताया हैं ऑयल पुल्लिंग के साइड इफेक्ट्स (oil pulling side effects in hindi) भी हो सकते हैं जो इस प्रकार हैं। 

1. अगर ऑयल पुल्लिंग करते समय आप गलती से भी तेल को निगल या पी लेते हैं तो इसके बहुत सारे दुष्परिणाम आपको भुगतने पड़ सकते हैं क्योंकी इस तेल में बहुत सारे हानिकारक बैक्टीरिया (Harmful bacteria) होते हैं जो आपके शरीर को नुकसान (oil pulling ke nuksan) पंहुचा सकते हैं। 

एक शोध के अनुसार अगर आप ऑयल पुल्लिंग करते समय तेल को निगल जाते हैं तो आपको पेट दर्द, दस्त लगना, पेट में ऐंठन होना, बुखार आना या सिर दर्द होने जैसी परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए ध्यान रखें की ऑयल पुल्लिंग करते समय आप गलती से भी ऑयल को अंदर न निगल ले। 

2. अगर आपको तेल से किसी भी तरह की कोई एलर्जी हैं तो आप ऑयल पुल्लिंग (oil pulling ke nuksan) बिलकुल भी न करें। देखा गया हैं की बहुत से लोगों को नारियल के तेल, सरसों के तेल या किसी अन्य तेल से एलर्जी होती हैं।

इन तेल का इस्तेमाल करने से उनके शरीर और चेहरे पर फोड़े- फुंसी और मुंहासे होने लगते हैं, बहुत से लोगों के शरीर पर भी छोटे-छोटे दाने होने लगते हैं। अगर आपको भी तेल से एलर्जी हैं तो आप इसका इस्तेमाल न करें। 

3. ऑयल पुल्लिंग ब्रश करने या दातुन करने का विकल्प नहीं हैं। दांतों को कोने-कोने से साफ करने के लिए आपको ब्रश करना ही होगा। 

4. ऑयल पुल्लिंग करने से कुछ लोगों का मुंह का स्वाद (Taste) बिगड़ सकता हैं और हो सकता हैं की ऑयल पुल्लिंग करने के बाद जब आप खाना खाने जाए तो आपको खाने में कोई स्वाद ही न आये। इसलिए खाना खाने से ठीक पहले आप ऑयल पुल्लिंग (oil pulling side effects in hindi) करने से बचे। 

5. ऑयल पुल्लिंग का नुकसान (oil pulling ke nuksan) हैं की ऑयल पुल्लिंग करने से आपको वोमिट या उलटी भी हो सकती हैं। जब आप पहली बार तेल से कुल्ला करें तो यह आपके लिए एक नया अनुभव होता हैं जिसके कारण बहुत से लोगों को वोमिट हो जाती हैं।   

अगर आप भी ऑयल पुल्लिंग करते हैं या ऑयल पुल्लिंग करना चाहते हैं तो इन बातों का ध्यान जरूर रखें जिससे Oil Pulling के फायदे आपको अच्छी तरह मिल सके और आप ऑयल पुल्लिंग के नुकसान  (oil pulling ke nuksan) से बच सके। 

यह भी पढ़े : शरीर में स्टैमिना कैसे बढ़ाये। स्टैमिना बढ़ाने के आयुर्वेदिक तरीके। 

उम्मीद हैं की ऑयल पुल्लिंग के नुकसान (oil pulling ke nuksan) के विषय में आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा और इस लेख को पड़ने के बाद आपको ऑयल पुल्लिंग क्या हैं, ऑयल पुल्लिंग के फायदे और ऑयल पुल्लिंग के साइड इफेक्ट्स (oil pulling side effects in hindi) के विषय में अब पूरी जानकारी मिल गयी होगी।

स्वास्थ्य से जुड़ी इसी तरह की अन्य जानकारियों के लिए आप Easy Life Hindi के अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं और हमें निचे कमेंट बॉक्स कर कमेंट भी कर सकते हैं। 

यह भी पढ़े :

Post Tags : oil pulling karne ke nuksan, oil pulling karne ke fayde, oil pulling kya hai, oil pulling kaise karte hai, oil pulling in ayurveda, oil pulling side effects in hindi, oil pulling benefits in hindi, oil pulling in hindi, oil pulling meaning in hindi

Photo of author

Deepak Bhatt

Hello readers! My name is Deepak Bhatt, a writer and operator of this website. I've completed my studies from Delhi University, and now through my website, I'm motivating people to improve their lifestyle with authentic and tested information.

1 thought on “आयल पुल्लिंग (तेल से कुल्ला) करते हैं तो इन 5 बातों का जरूर रखें ध्यान, नहीं तो हो सकते हैं भयानक नुकसान”

Leave a Comment

close button